• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Be Alert: अगले 48 घंटों में गुजरात में तबाही मचा सकता है 'चक्रवाती' तूफान, भारी बारिश की आशंका

|

अहमदाबाद। भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि गुजरात में भयंकर तूफान आने की आशंका है, विभाग ने अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण अगले 48 घंटों में गुजरात के विभिन्न हिस्सों खासकर तटीय जिलों में भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की है, इस चक्रवात के कारण पश्चिम महाराष्ट्र के समुद्री तटों से होते हुए गुजरात तक जोरदार बारिश होगी इसलिए मछुआरों को अगले कुछ दिनों में समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है और बंदरगाहों को खतरे का संकेत देने को कहा गया है।

क्या है 'चक्रवात'

क्या है 'चक्रवात'

कम वायुमंडलीय दाब के चारों ओर गर्म हवाओं की तेज आंधी को 'चक्रवात' कहते हैं। दक्षिणी गोला‌र्द्ध में इन गर्म हवाओं को 'चक्रवात' के नाम से जानते हैं और ये घड़ी की सुई के चलने की दिशा में चलती हैं। जबकि उत्तरी गोला‌र्द्ध में इन गर्म हवाओं को हरीकेन या टाइफून कहा जाता है, ये घड़ी की सुई के विपरीत दिशा में घूमती हैं।

यह पढ़ें: दिल्ली-NCR को और सताएगी गर्मी, IMD ने जारी किया रेड अलर्ट, पारा पहुंचेगा 46 पार

 मूसलाधार बारिश होती है

मूसलाधार बारिश होती है

गर्म क्षेत्रों के समुद्र में सूर्य की भयंकर गर्मी से हवा गर्म होकर अत्यंत कम वायुदाब का क्षेत्र बना देती है। हवा गर्म होकर तेजी से ऊपर आती है और ऊपर की नमी की मदद से बादलों का निर्माण करती हैं। रिक्त स्थान को भरने के लिए नम हवाएं तेजी के साथ नीचे जाकर ऊपर आती हैं। फलस्वरूप ये हवाएं बहुत ही तेजी के साथ प्रभावित क्षेत्र के चारों तरफ घूमकर घने बादलों और बिजली कड़कने के साथ-साथ मूसलाधार बारिश करती हैं।

क्या कह रहा है गुजरात मौसम विभाग

क्या कह रहा है गुजरात मौसम विभाग

राज्य मौसम विभाग के निदेशक जयंत सरकार ने मीडिया को जानकारी दी है कि अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण 13 और 14 जून को सौराष्ट्र और कच्छ में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। अरब सागर में बना कम दबाव का क्षेत्र सोमवार को करीब 31 किमी प्रति घंटा की गति से उत्तर की ओर बढ़ रहा है, आज सुबह आठ बजे ये अमीनिदीवी (लक्षद्वीप) से करीब 240 किलोमीटर, मुंबई से 760 किमी और वेरावल (गुजरात) से 930 किमी दूर था, जिस स्पीड से ये आगे बढ़ रहा है उस हिसाब से ये 72 घंटों में उत्तर-पश्चिमोत्तर की ओर बढ़ जाएगा।

 मॉनसून 24 जून को गुजरात पहुंचेगा

मॉनसून 24 जून को गुजरात पहुंचेगा

आपको बता दें कि गर्मी से जुझ रहे गुजरात में पारा 43 पार पहुंच गया है, मौसम विभाग ने कहा था कि राज्य में मॉनसून 24 जून के आसपास आ जाएगा, बता दें कि वर्ष 2013 में गुजरात में मॉनसून 11 जून को और साल 2014 में मॉनसून 13-14 जून को आया।

यह पढ़ें: Kathua Rape-Muarder Case: कौन है विशाल जंगोत्रा,जिसे कोर्ट ने बरी किया?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A heavy rainfall warning has been issued in parts of Gujarat in the next few days due to a depression in the Arabian Sea which is likely to turn into a severe cyclonic storm, a MeT official said on June 10.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X