• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अम्फान साइक्लोन: प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों को स्थानीय भाषा में मैसेज अलर्ट

|

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान अम्फान के ओडिशा तटों के करीब पहुंचने के साथ ही कुछ हिस्सों में बारिश शुरू हो चुकी है। जिसके बाद संवेदनशील इलाकों को खाली कराने का काम शुरू कर दिया गया है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल (एनडीआरएफ), भारतीय मौसम विभाग और टेलीकॉम सचिव ने प्रेस वार्ता में तैयारियों को लेकर जानकारी दी है। मौसम विभाग के मृत्युंजय महापात्र ने कहा है कि यह सबसे तेज चक्रवात है। 1999 के बाद बंगाल की खाड़ी में यह दूसरा सुपर साइक्लोन है। अभी समुद्र में इसकी हवा की गति 200-240 किमी प्रति घंटे है और यह उत्तर पश्चिमोत्तर दिशा की ओर बढ़ रहा है।

sts for evacuation

टेलीकॉम सचिव अंशु प्रकाश ने जानकारी दी है कि प्रभावित जिलों में लोगों को निकालने के लिए एसएमएस के माध्यम से अलर्ट और जानकारियां भेजी जा रही हैं। इसके लिए एसएमएस अलर्ट तैयार किया गया है। यह राज्य सरकारों के ऊपर है कि वह किस फ्रीक्वेंसी पर अलर्ट भेजना चाहती हैं। यह मुफ्त है और स्थानीय भाषाओं में हैं।

    Amphan Super Cyclone : मौसम विभाग ने बताया 200-240 KM/H होगी तूफान की रफ्तार | IMD | वनइंडिया हिंदी

    अंशु प्रकाश ने बताया है कि तूफान के जाने के बाद इंट्रा-सर्कल रोमिंग जारी रहेगी। टेलीकॉम सेवा प्रदाताओं को कहा गया है कि पर्याप्त संख्या में जेनरेटर्स का इंतजाम कर लें, इसके लिए डीजल की व्यवस्था कर लें और इन्हें हर जिले में पहुंचाएं जिससे कि अगर बिजली सेवा प्रभावित होती है तो इन जेनरेटर्स की सहायता से टॉवर काम कर सकें।

    एनडीआरएफ प्रमुख एस.एन. प्रधान ने बताया है कि ओडिशा में 15 टीमें तैनात हैं। ये टीम जागरूकता फैलाने और जानकारियां पहुंचाने के साथ लोगों को बाहर निकालने का काम कर रही हैं। पश्चिम बंगाल में चार टीम तैनात की गई हैं। बंगाल में दो टीम बैकअप में हैं। उन्होंने कहा कि हम इस समय दोहरी चुनौती का सामना कर रहे हैं। एक कोरोना वायरस औरदूसरा अम्फान तूफान।

    प्रधान ने बताया है कि एनडीआरएफ की छह बटालियन (11, 9, 1, 10, 4, 5) को इसमें शामिल की हैं। इसमें से 11वीं बटालियन वाराणसी में है, 9वीं पटना में, 1 गुवाहाटी में, 10वीं विजयवाड़ा में, चौथी अरक्कोनम में और 5वीं पुणे में है। उनके पास मिलिट्री एयरपोर्ट है और उन्हें तुरंत लाया जा सकता है। हर बटालियन में चार टीम हैं, ऐसे में हमारे पास 24 अतिरिक्त टीम हैं।

    भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के प्रमुख मृत्युंजय महापात्रा ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में उत्तरी और दक्षिणी 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिलों की चक्रवात से प्रभावित होने की संभावना है। कोलकाता, हुगली, हावड़ा और पश्चिमी मिदनापुर जिलों को 110-120 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाओं का सामना करना पड़ेगा, 135 किमी प्रति घंटा तक जा सकती है।

    Cyclone Amphan के चलते देश के कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, मछुआरों को समुद्र में जाने से रोका

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Amphan Cyclone SMS alerts generated to people in affected dists for evacuation
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X