• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए एक्टर सोनू सूद, 10 बसों में बिठाकर भेजा घर

|

नई दिल्ली। कोरोना संटक के बीच देशव्यापी लॉकडाउन के चलते महाराष्ट्र में फंसे कर्नाटक के प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद आगे आए हैं। एक्टर सोनू सूद ने महाराष्ट्र में रह रहे प्रवासी मजदूरों को वापस उनके गृह राज्य भेजने के लिए दस बसों की व्यवस्था की और सोमवार को उनको रवाना किया। प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने की व्यवस्था कर अभिनेता सोनू सूद ने एक मिसाल पेश की है। फेसबुक, ट्विटर समेत कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लोग उनकी प्रशंसा कर रहे हैं।

महाराष्ट्र कोरोना वायरस का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट

महाराष्ट्र कोरोना वायरस का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट

गौरतलब है कि देश में महाराष्ट्र कोरोना वायरस का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट है, राज्य में लॉकडाउन के अलावा कर्फ्यू भी लगाया गया है। कोरोना संकट में देशभर के दिहाड़ी मजदूरों के सामने आजीविका की समस्या आ गई है जिसके बाद से वह किसी भी तरह अपने मूल निवास स्थान पहुंचना चाहते हैं। हालांकि सरकार ने ऐसे मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया है लेकिन फिर भी कई लोग इस सेवा का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। महाराष्ट्र में फंसे ऐसे मजदूरों के लिए अभिनेता सोनू सूद ने दिल जीत लेने वाला काम किया है।

प्रवासी मजदूरों के लिए आगे आए सोनू सूद

प्रवासी मजदूरों के लिए आगे आए सोनू सूद

प्रवासी मजदूरों के लिए महाराष्ट्र के ठाणे में बसों की व्यवस्था की गई थी जहां से सोमवार को खुद सोनू सूद ने उन्हें कर्नाटक के गुलबर्गा के लिए रवाना किया। दबंग स्टार सोनू सूद ने अपने एक बयान में कहा, महामारी के संकट में हर किसी को अधिकार है कि वह अपने परिवार वालों के साथ रहे। एक्टर ने आगे कहा, 'मेरा मानना है कि वर्तमान समय में जब हम सभी इस वैश्विक स्वास्थ्य आपदा का सामना कर रहे हैं तो प्रत्येक भारतीय को अपने परिवार और प्रियजनों के साथ रहना चाहिए और वह इसका हकदार भी है।'

महामारी में हर कोई अपने परिवार के साथ रहने का हकदार

महामारी में हर कोई अपने परिवार के साथ रहने का हकदार

अभिनेता सोनू सूद ने आगे कहा, मैंने इन प्रवासियों को घर पहुंचने में उनकी मदद के लिए लगभग दस बसों की व्यवस्था की है। इसके लिए हमने महाराष्ट्र और कर्नाटक सरकारों से आधिकारिक अनुमति ली है। उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र सरकार के अधिकारियों ने कागजी कार्रवाई में हमारी काफी मदद की है। इसके अलवा कर्नाटक सरकार ने भी प्रवासियों की घर वापसी के लिए हमारा सहयोग किया।

सड़कों पर पैदल जाते प्रवासियों को देख मिली प्रेरणा

सड़कों पर पैदल जाते प्रवासियों को देख मिली प्रेरणा

एक्टर ने आगे कहा, छोटे बच्चों और बूढ़े माता-पिता सहित सड़कों पर पैदल जाते प्रवासियों को देखकर मुझे उनके लिए कुछ करने की इच्छा हुई। मैं दूसरे राज्यों में भी अपनी क्षमताओं के अनुसार मजदूरों की मदद के लिए ऐसा करता रहूंगा। यह पहली बार नहीं है जब सोनू कोरोना संकट में मदद के लिए आगे आए हैं। इससे पहले उन्होंने पंजाब में डॉक्टरों को 1,500 से अधिक पीपीई किट दान किया था।

पहले भी कर चुके हैं मदद

पहले भी कर चुके हैं मदद

इसके अलवा एक्टर रमजान के पवित्र महीने के दौरान भिवंडी क्षेत्र में प्रवासियों को भोजन किट प्रदान करने के साथ-साथ हजारों जरूरतमंद लोगों को भोजन करा रहे हैं। बॉलीवुड अभिनेता पिछले महीने अपने मुंबई स्थित होटल को फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए आवास के रूप में प्रदान किया था। बता दें कि भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 67 हजार से अधिक हो गई है और 2200 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं, यहां अब तक 22 हजार से ज्यादा संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है।

नोटों से कोरोना फैलने का खतरा न हो इसलिए होम डिलीवरी को कैशलेस बनाया, डिजिटल पेमेंट करना होगा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Actor Sonu Sood sent 350 migrants home from Maharashtra to Karnataka in 10 buses
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X