• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यमुनानगर: गर्भवती पत्नी को नहीं दे पाया तलाक तो SI पति ने गाड़ी से कुचलवाया, मजबूरन करनी पड़ी थी शादी

|
Google Oneindia News

यमुनानगर, 17 अक्टूबर: खबर हरियाणा के यमुनानगर जिले से है। यहां पांच महीने की गर्भवती पत्नी की हत्या करवाने के आरोपी रेलवे पुलिस में सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया गया है। बता दें, पत्नी को अपने रास्ते से हटाने के लिए एसआई दरोगा ने उसका एक्सीडेंट करवा कर उसे हादसे का रूप देने का प्रयास किया गया था। यमुनानगर पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल ने मीडिया को संबोधित करते हुए बताया कि इस मामले को सुलझाने का जिम्मा अपराध शाखा यमुनानगर-1 को सौंपा गया था, जिसमें कार्रवाई के दौरान फरकपुर थाना एरिया में हुई हत्या के इस मामले का खुलासा हुआ है।

sub inspector failed to give triple talaq then life lost his wife in Yamuna Nagar

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो रेलवे पुलिस में सब इंस्पेक्टर अफसर अली पर आरोप है कि उसने अपनी पांच माह की गर्भवती पत्नी नजमा की अपने चचेरे भाई के साथ मिल के योजनाबद्ध तरीके से हत्या करवा दी थी। इसे एक सड़क हादसे का रूप देकर कानून की आंखों में धूल झोंकने का प्रयास किया था। इस बात का खुलासा अपराध शाखा- 1 की टीम ने किया। बता दें, जिस गाड़ी से नजमा का एक्सीडेंट दिखाया गया वह अफसर अली के यूपी स्थित गांव की ही निकली।

अफसर अली ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल भी कर लिया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया गया है। पुलिस की माने तो इसे कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा और इस हत्याकांड में शामिल अन्य आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

खबर के मुताबिक, रेलवे पुलिस में सब इंस्पेक्टर अफसर अली की बरेली निवासी नजमा से फेसबुक पर मुलाकात हुई थी। प्रेम परवान चढ़ा तो दोनों में संबंध भी बन गए, लेकिन अफसर अली शादी नहीं करना चाहता था। बात पुलिस तक न पहुंचे इस लिए अफसर अली को 2019 में मजबूरन नजमा से शादी करनी पड़ी। इसी दौरान तीन तलाक कानून आ गया जिसके बाद अफसर अली नजमा को छोड़ नहीं पाया। जिसके बाद उसने अपने चचेरे भाई और उसके अन्य दो साथियों के साथ मिलकर अपनी 5 माह की गर्भवती पत्नी को रास्ते से हटाने की योजना बनाई।

ये भी पढ़ें:- सिंघु बॉर्डर मर्डर केस: 6 दिन की रिमांड पर भेजे गए तीनों आरोपीये भी पढ़ें:- सिंघु बॉर्डर मर्डर केस: 6 दिन की रिमांड पर भेजे गए तीनों आरोपी

दूसरी शादी के लिए मिलने वाले थे 50 लाख
मृतक नजमा के भाई मोहम्मद इदरीश की मानें तो शादी के बादसे ही एसआई अफसर उनकी बहन को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। मकान बेचकर अफसर को 12 लाख रुपए भी दिए। लेकिन वो इसे भी खुश नहीं था। बताया कि अफसर दूसरी शादी करना चाहता था, वहां से उसे 50 लाख रुपए मिलने थे।

Comments
English summary
sub inspector failed to give triple talaq then life lost his wife in Yamuna Nagar
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
Desktop Bottom Promotion