• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गुजरात: फसल के उचित भाव की मांग करते किसानों ने सड़क पर फेंके लहसुन, पुलिस ने 25 पकड़े, VIDEO

|

राजकोट। फसलों के उचित भाव मिलने और कम ब्याज पर लोन की मांग को लेकर लोग किसान संघ की अगुवाई में प्रदर्शन कर रहे हैं। कई किसानों ने इस मर्तबा सड़क पर लहसुन-प्याज फेंके। सड़क पर लहसुन की गांठ व्यर्थ फेंके जाने के बाद किसानों की रैली कलेक्ट्रेट को रवाना होनी थी। हालांकि, पुलिस-प्रशासन ने इससे पहले ही कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस ने मौके से किसान संघ के अग्रणियों समेत 25 से ज्यादा किसानों को जा पकड़ा। पुलिस उन्हें गाड़ियों में डालकर ले जाने लगी।

Watch video: farmers protest in rajkot, Throws garlic on the street, 25 caught by police

मौके पर किसान संघ के प्रमुख दिलीप सखियां ने कहा, ''हमारी मांग बिल्कुल जायज हैं। पिछले वर्ष ज्यादा बारिश होने के कारण किसानों की स्थिति काफी खराब है। बीमा कंपनियों द्वारा फ़सल बीमा भी नहीं दिया गया है। ऐसे में अब तैयार फसलों के उचित दाम भी नहीं मिल रहे है। और किसानों को लोन भी नहीं दी जा रही है। ऐसे में नए साल की बुआई करना भी नामुमकिन हो गया है और देश का पेट भरने वाले किसानों को ही भूख से मरने की नौबत आ चुकी है। संघ द्वारा पहले भी इस मामले में आवेदन दिए गए हैं, लेकिन सरकार या प्रशासन द्वारा आज तक कोई भी कदम नहीं उठाया गया।'

Watch video: farmers protest in rajkot, Throws garlic on the street, 25 caught by police

दिलीप आगे बोले- ''अब मॉनसून नजदीक होने के कारण बुआई करना जरूरी होने के कारण लॉकडाउन के बावजूद हमें रास्ते पर उतरना पड़ा। मगर, यहां प्रशासन द्वारा हमारी बात सुनने के बजाय जितने भी किसान आए थे, उन सभी को हिरासत में लेकर हमारी आवाज दबाने का प्रयास किया जा रहा है। हम अपनी आवाज उठाएंगे।'

राजस्थान, मप्र-यूपी समेत 4 राज्यों में घुसी टिड्डियां, इनका 1 झुंड 1 घंटे में चट कर रहा 1 एकड़ फसल, देखिए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Watch video: farmers protest in rajkot, Throws garlic on the street, 25 caught by police
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X