• search

पिता ने की पिटाई, गुस्से में आकर बेटी ने दर्ज करवा दिया छेड़खानी का केस

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    नई दिल्ली। यौन उत्पीड़न के बढ़ने मामलों को देखते हुए बच्चों को स्कूलों में इससे संबंधित जानकारी दी जाती है। कैसे छेड़खानी से बचे और छोड़खानी की स्थिति में क्या करें इस बारे में स्कूलों में वर्कशॉप चलाई जाती है, लेकिन इस वर्कशॉप का एक बच्ची पर ऐसा असर हुआ कि उसने अपने पिता के खिलाफ ही छेड़खानी का मामला दर्ज करवा दिया। बच्ची ने पिता की मार से नाराज होकर बच्ची ने अपने पिता पर छेड़खानी का झूटा मामला दर्ज करवा दिया।

     Troubled by parents dispute, girl files false molestation case against father

    हालांकि छेड़खानी के झूठे केस के बावजूद कोर्ट ने लड़की की तारीफ की। लड़की ने कोर्ट में बताया कि उसके पिता शराब पीकर उसे और उस की मां के साथ मारपीट करते थे। कई बार उसने पिता की इस हरकत को लेकर पुलिस से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने पर उसने पिता पर छेड़खानी का केस दर्ज करवा दिया। लड़की ने खुद स्वीकार लिया कि उसने पिता पर झूठा केस दर्ज करवाया है। उसने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि पुलिस में बार-बार शिकायत के बावजूद पुलिस कोई एक्शन नहीं लिया, जिसके बाद उसने पिता पर झूठा केस दर्ज करवाया।

    लड़की ने बताया कि उसके स्कूल में वर्कशॉपके दौरान छेड़छाड़ जैसे अपराध, उसकी सजा के बारे में बताया गया था। उसके बारे में जानकर उसने पिता पर यहीं आरोप लगाया ताकि पुलिस उसे गिरफ्तार कर ले।लड़की के बयान के बाद कोर्ट ने पिता को छेड़छाड़ और पॉक्सो कानून के तहत यौन उत्पीड़न के आरोप से बरी तो कर दिया, लेकिन उसपर पत्नी तथा दो नाबालिग बेटियोंको शराब के नशे में पीटने और धमकी देने का आरोपी माना। कोर्ट ने पिता को अच्छे आचरण रखने पर उसे जमानत तो दे दी, साथ-साथ सख्त हिदायत भी दी है।

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    A school workshop on dos and donts for girls when faced with molestation gave courage to a student to move the police against an abusive father and get justice from a court for herself, her sister and mother.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more