• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Kawardha News: कलेक्टर बनकर करता था फोन, सरपंचों को ठगने वाला शातिर ठग अब पहुंचा जेल

छत्तीसगढ़ में ठगी के लिए कलेक्टरों के नाम का सहारा लिया जा रहा है। कवर्धा में सरपंचों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। जिस पर स्वयं को कलेक्टर बताकर सरपंचों और आम नागरिकों से ठगी करने वाले एक शख्स को पुलिस ने पकड़ा है।
Google Oneindia News

छत्तीसगढ़ में ठगी के लिए कलेक्टर जैसे पद का सहारा लिया जा रहा है। कवर्धा जिले में स्वयं को कलेक्टर बताकर सरपंचों और आम नागरिकों से उगाही करने वाले ठग को पुलिस ने पकड़ा है। इस तरह की शिकायत जिले के सरपंचों और ग्रामीणों ने थाने में दर्ज कराई थी। इस बार भी एक व्यक्ति को आरोपी ने ठगी का शिकार बनाने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में उत्तर प्रदेश के एक शख्स को गिरफ्तार किया है।

collector froud

छत्तीसगढ़ के कई लोगों को बना चुका है शिकार
आरोपी शख्स ने पूछताछ के दौरान अपना गुनाह स्वीकार किया। पुलिस को बताया कि इसी तरह उसने छत्तीसगढ़ के कई लोगों को ठगी का शिकार बनाया है। उसने बताया कि वह कहता है मैं कलेक्टर हूं, कुछ पैसों की व्यवस्था करो तो तुम्हारा काम हो जाएगा। इसी तरह का फोन 21 नवम्बर को कवर्धा के सिंघनपुरी जंगल क्षेत्र के सरपंच चन्द्रनारायण को आरोपी ने किया था। लेकिन चन्द्रनारायण ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी।

thagi cg

सरपंच से मांगे 20 हजार, फिर बोला काम हो जाएगा
इस मामले में सरपंच ने बताया कि जब अचानक यह फोन आया तब वह परेशान हो गया, फिर उसने पुलिस से इसकी शिकायत कर दी। उसने अपनी शिकायत में बताया कि एक दिन पहले एक नंबर से उसे फोन आया था। फोन करने वाला शख्स ने अपने आप को कलेक्टर बताकर पैसे की मांग कर रहा था। कहा था। उसने कहा कि मैं कलेक्टर बोल रहा हूँ, तुम्हारा निर्माण कार्य का काम है। इसके बदले में 20 हजार रुपए की व्यवस्था करो तो तुम्हारा काम हो जाएगा।
coll thagi

आरोपी ने ट्रू कॉलर में भी लिखा कलेक्टर
चद्रनारायण ने पुलिस को बताया गया कि शातिर ठग ने उसे फोन पे और यूपीआई आईडी भेजी, लेकिन इस मामले में पीड़ित ने समझदारी दिखाई और ठग को पैसे नहीं भेजे। यूपीआई आईडी में उसका नाम दिनेश अजगले लिखा था। पीड़ित की इसी शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया और जांच शुरू की। ट्रूकॉलर में युवक ने अपना नाम कलेक्टर लिख रखा था। जिससे लोगों को धोखे में रखकर पैसे ट्रांसफर करवाता था।

Durg News: मंदिर में रखा डेटोनेटर ब्लास्ट, पूजा करने पहुंचा बच्चा बुरी तरह घायल, माइंस से हुई डेटोनेटर की चोरीDurg News: मंदिर में रखा डेटोनेटर ब्लास्ट, पूजा करने पहुंचा बच्चा बुरी तरह घायल, माइंस से हुई डेटोनेटर की चोरी

आईएएस अधिकारियों के नाम से सरपंचों को बना रहे शिकार

कुछ समय पहले बेमेतरा कलेक्टर जितेंद्र शुक्ला के नाम पर भी सरपंच से पैसों की मांग की गई थी। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है इन शातिर ठगों के पास सरपंचों के नंबर कैसे पहुंचे। जिस पर ये अलग अलग नम्बरों से कॉल कर ठगी का शिकार बना रहे हैं। इसी तरह आईएएस अधिकारी की क्लोन फेसबुक आएडी बनाकर भी लोगों से ठगी की जा रही है।

यूपी के झांसी से आरोपी को किया गया गिरफ्तार
पुलिस ने पीडित सरपंच की शिकायत पर 420 का मामला दर्ज किया। जिसके बाद दिए गए नम्बर और यूपीआई नम्बर से आरोपी को किया, जिस ओर आरोपी का लोकेशन उत्तर प्रदेश के झांसी में मिला। इसके बाद कवर्धा पुलिस टीम झांसी के लिए रवाना हुई। उत्तरप्रदेश के झांसी से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।आरोपी दिनेश अजगले आगरा जिला के धाधुपुरा गांव का निवासी है। आरोपी ने बताया की इसी तरह को सरपंचों और निर्माण कार्य से जुड़े लोगों को वह अपना शिकार बनाता है। छत्तीसगढ़ में कई लोगों को उसने अपना शिकार बनाया है।

एसपी ने की अपील, पुलिस को दें सूचना
पुलिस ने इस मामले में आरोपी पर धारा 420 और 511 के तहत कार्रवाई की है। जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया है। वहीं एसपी ने सभी ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों को ऐसे आर्थिक ठगी के मामलों में बचने के लिए पुलिस को सूचना देने की अपील की है , एसपी लाल उमेंद सिंह कवर्धा ने कहा कि इसके लिए जिले में जागरूकता अभियान भी चलाये जा रहें हैं। जिससे शातिर ठगों से बचा जा सकता है।

Comments
English summary
Kawardha News: The vicious who cheated sarpanches used to call as collector, now goes to jail
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X