• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पर्सनल लोन के लिए आवेदन के समय ना करें ये गलतियां

किसी मुश्किल घड़ी या आपातकाल की स्थिति में पर्सनल लोन काफी काम आते हैं। इस तरह के लोन आसानी से मिल जाते हैं। पर्सनल लोन की प्रक्रिया काफी आसान होती है और इसमें ब्‍याज की दर भी काफी कम होती है। अगर आप भी पहली बार पर्सनल लोन लेने के बारे में सोच रहे हैं या इस मामले में आपको कोई अनुभव नहीं है तो इस दौरान आप कोई गलती भी कर सकते हैं जिससे आपका लोन एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट हो सकता है।

loan

आज हम आपको पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय होने वाली कुछ ऐसी गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो अकसर लोग कर बैठते हैं।

1. ऋण चुकाने की क्षमता का आंकलन पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय आपको ब्‍याज दर को ध्‍यान में रखना चाहिए। ब्‍याज दर से ही ये निर्धारित होता है कि आपको हर महीने कितनी ईएमआई भरनी होगी। अगर आप अपनी रीपेमेंट क्षमता को ध्‍यान में नहीं रखते हैं तो आपको अपनी महीने की सैलरी का एक बड़ा हिस्‍सा ईएमआई में देना पड़ सकता है। लोन के लिए एप्‍लाई करने से पहले ईएमआई कैलकुलेटर जैसे उपकरणों का सही इस्‍तेमाल करें ताकि पता चल सके कि आपको कितना ब्‍याज देना है और हर महीने आप पर कितना बोझ पड़ेगा।

उदाहरण के तौर पर आपकी आय का 30% से अधिक हिस्‍सा ऋण चुकाने में खर्च नहीं होना चाहिए। इस तरह, आप अपनी आय और ऋण को सही तरह से मैनेज कर सकते हैं और आपके ऊपर ईएमआई का अधिक बोझ भी नहीं पड़ेगा।

2. एकसाथ कई जगहों पर एप्‍लाई करना कभी आपको अचानक पैसों की सख्‍त जरूरत पड़ सकती है और ऐसी स्थिति में तुरंत लोन लेना पड़ता है। कभी एक से ज्‍यादा बैंकों में अलग-अलग तरह के लोन के लिए एकसाथ या लगातार एप्‍लाई नहीं करना चाहिए। जब भी आप एक से ज्‍यादा पर्सनल लोन के लिए एप्‍लाई करते हैं तो बैंक या एनबीएफसी द्वारा कड़ी पूछताछ की जाती है। इस तरह की जांच में उधार देने वाले संस्थानों और क्रेडिट रिपोर्ट ब्यूरो के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान होता है।

क्रेडिट स्‍कोर ज्‍यादा हो तो अग्रणी एनबीएफसी से लोन के लिए एप्‍लाई करने पर आपकी एप्‍लीकेशन के रिजेक्‍ट होने की संभावना बहुत कम होती है। ये आसान ईएमआई पर लोन देते हैं जिसमें पुनर्भुगतान की सीमा आप अपने अनुसार रख सकते हैं। इसके लिए आपका क्रेडिट स्‍कोर 750 या इससे ज्‍यादा होना चाहिए।

3. उपलब्‍ध विकल्‍पों पर पर्याप्‍त रिसर्च ना करना कई ऋणदाता संस्‍थान पर्सनल लोन की सुविधा देते हैं। हर पर्सनल लोन की विशेषता और फायदे अलग-अलग होते हैं। लोन लेने से पहले इसकी सभी शर्तों को अच्‍छी तरह से समझने की सलाह दी जाती है। ऐसी कई वेबसाइट हैं जहां पर आप अलग-अलग बैंकों और एनबीएफसी द्वारा दिए जा रहे पर्सनल लोन की शर्तों, सुविधाओं और फायदों की तुलना कर सकते हैं।

4. पुराने कर्ज की जानकारी ना देना लोन देने वाले सभी संस्‍थान आपका लोन अप्रूव करने से पहले आपके पिछले क्रेडिट को देखते हैं। लोन आपको तभी मिलता है जब आपने अपने पुराने कर्ज को पूरा कर दिया हो। अगर आप बैंक से कोई जरूरी जानकारी छिपाते हैं तो इसकी वजह से आपकी लोन एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट हो सकती है। वर्तमान में चले रहे कर्ज आदि के बारे में कोई भी जानकारी ना छिपाएं।

जैसे कि आपने 14 प्रतिशत की ब्‍याज दर पर 3 साल के लिए 1 लाख रुपए लिए हैं तो आपको ईएमआई के रूप में एक निश्चित राशि का भुगतान करना होगा। अगर आप इस लोन को 5 साल के लिए लेते हैं तो आपकी ईएमआई तो कम हो जाएगी लेकिन कुल ब्‍याज आपको पहले से भी ज्‍यादा देना होगा।

6. लोन के लिए एप्‍लाई करने से पहले क्रेडिट स्‍कोर चैक ना करना सिबिल स्‍कोर को 750 या इससे ज्‍यादा बनाए रखने की कोशिश करें। इससे आपको आसानी से लोन मिल सकता है। इस स्‍कोर के आधार पर ही आपको पर्सनल लोन मिलने की राशि तय होती है। इस कारण लोन के लिए एप्‍लाई करने से पहले ही अपना क्रेडिट स्‍कोर चैक कर लें। ज्‍सादा सिबिल स्‍कोर का मतलब है आपका क्रेडिट स्‍कोर ज्‍यादा होना। हाई क्रेडिट स्‍कोर से आप ज्‍यादा से ज्‍यादा राशि का लोन ले सकते हैं। भारत में हर साल सबसे ज्‍यादा पर्सनल लोन का भुगतान किया जाता है। समझदारी से अपने लिए पर्सनल लोन और बैंक का चुनाव करें। सबसे सुविधाजनक शर्तों और फायदों के साथ ऋण प्राप्त करने के लिए एक सही निर्णय लें

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X