• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP: कौतुहल बने 5 साल के तक्ष, कंप्यूटर से भी तेज चलता है दिमाग, गूगल बॉय' दिया नाम

Google Oneindia News

सतना, 2 सितंबर। गूगल सर्च इंजन अपने तुरंत दिए जाने वाले जवाबों के कारण देश-दुनिया में जाना जाता है‌। जब कोई इंसान ऐसे ही जल्दी जल्दी हर सवाल का जवाब देता है तो लोग कहते हैं इसका दिमाग तो गूगल से भी तेज है। 5 वर्ष का तक्ष भी गूगल जैसे तेज दिमाग वाला है। इसीलिए तो उसके क्षेत्र के लोग उसे गूगल बॉय के नाम से जानते हैं।

तोतली आवाज में देता है जवाब

तोतली आवाज में देता है जवाब

देश-दुनिया में अपनी मेधा के बल पर गूगल ब्वॉय के नाम से प्रसिद्ध कौटिल्य के बाद विंध्य क्षेत्र के सतना जिला स्थित छोटे से गांव में 1 गूगल ब्वॉय की खोज हुई है। ये नया गूगल ब्वॉय हुनर में कौटिल्य से काफी आगे है। इस मासूम का दिमाग कम्प्यूटर से भी तेज चलता है। तक्ष के सवाल जबाव सुनने वाले लोग उसके मुरीद हो गए। देश विदेश संबंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी ली गई तो उसने बड़ी चतुराई से तोतली आवाज में जवाब देकर सबको गूगल ब्वॉय कहने के लिए मजबूर कर दिया।

स्कूल का टॉपर

स्कूल का टॉपर

स्कूल के शिक्षकों का कहना है कि 5 वर्षीय तक्ष का दिमाग औरों से हटकर है। वह स्कूल का टॉपर छात्र है। यहां तक की उसका दिमागी ज्ञान 9वीं 10वीं के बच्चों से ज्यादा है। देश विदेश की राजधानियों के साथ हर सवाल का जवाब वह फटाफट देता है। रामचरित मानस की चौपाई हो या फिर हनुमान चलीसा। सब कुछ कंठ में बसा हुआ है। ज्यादातर संस्कृत और वेदों के श्लोक उसको रटे हुए है। वह फर्राटे दार इंग्लिश भी बोलता है।

सामान्य परिवार में जन्मा बच्चा

सामान्य परिवार में जन्मा बच्चा

बताया गया कि 10 अक्टूबर 2015 को तक्ष का जन्म ग्राम घुघुआर के 1 सामान्य परिवार में हुआ था। पिता धीरेन्द्र सिंह किसान है और मां इंदू सिंह गृहणी है। माली हालत से जूझ रहे किसान धीरेन्द्र सिंह ने कोठी कस्बा स्थित 1 निजी स्कूल की नर्सरी कक्षा में तक्ष का दाखिला दिलाया। माता इंदू सिंह का कहना है कि तक्ष की बुद्धि कौशल को देख उन्हें भी कई माह तक विश्वास नहीं हुआ। उसके जवाब सुनकर वह खुद परेशान है कि आखिर ज्ञान कहां से आया है।

कोठी से 5 किलोमीटर दूर है घुघुआर गांव

कोठी से 5 किलोमीटर दूर है घुघुआर गांव

सतना-चित्रकूट मार्ग स्थित कोठी कस्बे से लगा गांव घुघुआर नगर से 5 किलोमीटर की दूरी पर है। उम्र की बात करें तो तक्ष सिर्फ 5 साल है। पर बुद्धि विकास इतना कि लोग आर्चाय चाणक्य मान रहे। तक्ष नाम के बालक को लोग छोटा कौटिल्य कहने से गुरेज नहीं कर रहे। छोटी सी उम्र में तक्ष बड़े-बड़ों को चुनौती दे रहा। अंग्रेजी के लेटर से लेकर हर जवाब वह फटाफट दे देता है।

बच्चे की प्रतिभा को निखारने की आवश्यकता

बच्चे की प्रतिभा को निखारने की आवश्यकता

बहरहाल, जिस उम्र में बच्चे ए फॉर एप्पल सी फॉर कैट ही याद कर पाते हैं, उस उम्र में तक्ष देश विदेश की महत्वपूर्ण जानकारी रखता है। जरूरत है कि इस मासूम की अच्छे से परवरिश और शिक्षा की जाए। ताकि बच्चे की प्रतिभा निखर सके।

यह भी पढ़ें- MP: 6 साल के दिव्यांग आराध्य को याद है 400 श्लोक, स्वस्ति वाचन समेत वेद की ऋचाएं, 'संस्कृति कौटिल्य' दिया नामयह भी पढ़ें- MP: 6 साल के दिव्यांग आराध्य को याद है 400 श्लोक, स्वस्ति वाचन समेत वेद की ऋचाएं, 'संस्कृति कौटिल्य' दिया नाम

Comments
English summary
MP: 5 year old Taksha becomes curious, brain runs faster than computer, given the name 'Google Babe'
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X