• search
बैंगलोर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

क्रिप्टो ट्रेडर के रूप में गंवा दी बड़ी रकम तो खोल ली दुकान, अब 'क्रिप्टो' एक्सेप्ट करने की वजह से हुए चर्चित

एक यूजर ने पूछा कि वह क्रिप्टो को कैसे स्वीकार करता है?क्या सभी सिक्के स्वीकार किए जाते हैं? और दुकानदार एक्सचेंज रेट कैसे तय करता है? मेरे पास ऐसे ही बहुत सारे प्रश्न हैं। वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि यदि आप इस आदमी को जानते हैं, तो उसे एक और आइडिया दें..एनएफटी चाय।- आप जो चाय पीते हैं, उसके मालिक हैं।

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 29 सितंबर। आपने अभी तक किसी दुकानों पर ऑनलाइन पेमेंट के रूप में गुगल-पे, फोन-पे और पेटीएम या फिर अन्य ऐप का इस्तेमाल किया होगा। भारत में दुकानदारों की तरफ से गुगल-पे, फोन-पे और पेटीएम पर ही पेमेंट एक्सेप्ट किया जाता है। लेकिन बेंगलुरु में 'फ्रस्ट्रेटेड ड्रॉपआउट' नामक एक चाय की दुकान वाला ऐसा है, जो क्रिप्टोकरेंसी भी स्वीकार करता है। क्रिप्टोकरेंसी स्वीकार करने की वजह से इंटरनेट पर दुकानदार की तारीफ हो रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर खबर वायरल होने के बाद दुकान भी पूरे बेंगलुरु में प्रसिद्ध हो गई है।

cripto tea seller

ये भी पढ़ें- यहां खरीदार भी महिला है और दुकानदार भी महिला, देखिए चंबल का अनोखा मेला

अक्षय सैनी नामक यूजर ने शेयर किया फोटो

अक्षय सैनी नामक यूजर ने शेयर किया फोटो

दुकानदार की फोटो अक्षय सैनी नाम के एक ट्विटर यूजर ने बुधवार को शेयर किया। यूजर ने कैप्शन में लिखा कि 'बस बेंगलुरू की बातें। #crypto #NammaBengaluru(Sic)", तस्वीर पूरे इंटरनेट पर है। हालांकि, लोगों के मन में पहले से ही 'निराश होकर स्कूल छोड़ने' को लेकर कई सवाल हैं। 'फ्रस्ट्रेटेड ड्रॉपआउट' दुकानदार के दुकान पर एक छोटा सा पैड रखा हुआ है, जिस पर लिखा गया है, यहां पर क्रिप्टो एक्सेप्ट किया जाता है। वहीं, लोग क्रिप्टो एक्सेप्ट करने को लेकर दुकानदार से कई सवाल भी कर रहे हैं।

यूजर ने पूछा, हाऊ डज ही एक्सेप्ट क्रिप्टो?

यूजर ने पूछा, हाऊ डज ही एक्सेप्ट क्रिप्टो?

एक यूजर ने पूछा कि वह क्रिप्टो को कैसे स्वीकार करता है?क्या सभी सिक्के स्वीकार किए जाते हैं? और दुकानदार एक्सचेंज रेट कैसे तय करता है? मेरे पास ऐसे ही बहुत सारे प्रश्न हैं। वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि यदि आप इस आदमी को जानते हैं, तो उसे एक और आइडिया दें..एनएफटी चाय।- आप जो चाय पीते हैं, उसके मालिक हैं।

30,000 रुपए की शुरुआती पूंजी से शुरू की थी दुकान

30,000 रुपए की शुरुआती पूंजी से शुरू की थी दुकान

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार क्रिप्टो स्वीकार करने वाले चाय विक्रेता का नाम शुभम सैनी है। शुभम ने बेंगलुरु के मराठाहल्ली में 30,000 रुपए की शुरुआती पूंजी से चाय की दुकान शुरू की थी। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि उन्होंने इस चाय की दुकान को 2021 में तब शुरू किया था, जब उन्होंने एक क्रिप्टो ट्रेडर के रूप में एक बड़ी राशि खो दी थी। क्योंकि कोरोना की वजह से 2021 में मार्केट में बड़ी गिरावट आई थी। सैनी की तरफ से एक तख्ती पर क्रिप्टो भुगतान के लिए अमेरिकी डॉलर की तुलना भारतीय रुपए से करने के बाद कीमतों को अपडेट किया जाता है।

क्या है क्रिप्टो करेंसी?

क्या है क्रिप्टो करेंसी?

क्रिप्टो करेंसी नेटवर्क पर आधारित एक डिजिटल मुद्रा है। इसका डिस्ट्रीब्यूशन ऑनलाइन नेटवर्क के माध्यम से किया जाता है। कम्प्यूटर नेटवर्क और ब्लॉकचेन पर आधारित यह विकेंद्रीकृत संरचना क्रिप्टो करेंसी को सरकारों और किसी भी वित्तीय नियंत्रण से बाहर रखती है। बिटकॉइन और एथेरियम को अब तक की सबसे मंहगी क्रिप्टो करेंसी माना जाता है।

Comments
English summary
Bengaluru Frustated dropout tea seller accepted Crypto payments goes viral on twitter
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X