• search
अलवर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

'मेरे टाइम में 19 बार हुई थी सर्जिकल स्ट्राइक, कभी ढिंढोरा नहीं पीटा'- पूर्व रक्षा राज्यमंत्री जितेन्द्र सिंह

|

Alwar News, अलवर। पुलवामा हमला और एयर स्ट्राइक के बाद देश में सियासत भी गरमा गई है। कहीं कांग्रेस के नेता केन्द्र सरकार से एयर स्ट्राइक (AIR Strike) के सबूत मांग रहे हैं तो कहीं भाजपा पर इस पूरे घटनाक्रम पर राजनीति किए जाने के आरोप लग रहे हैं।

ex defense state minister jitendra-singhs statement on surgical strikes

इस मामले में भाजपा सरकार पर निशाना साधने वालों में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के बाद राजस्थान के अलवर के पूर्व सांसद व कांंग्रेस सरकार में मंत्री रहे जितेन्द्र सिंह (bhanwar jitendra singh) का नाम भी शामिल हो गया है।

एयर स्ट्राइक पर सियासत जारी, BJP विधायक के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग

पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने भाजपा पर पुलवामा हमला व एयर स्ट्राइक के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा भाजपा सर्जिकल स्ट्राइक का ढिंढोरा पीट रही है जबकि मैं खुद रक्षा महकमे का राज्यमंत्री रह चुका हूं। मेरे कार्यकाल में 18-19 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी, लेकिन हमने कभी इसका ढिंढोरा नहीं पीटा। ना ही सर्जिकल स्ट्राइक्स के नाम पर वाहवाही लूटी। सर्जिकल स्ट्राइक की यह बात पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह अलवर के बहरोड़ में कांग्रेस बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन के मौके पर मीडिया से बातचीत में कही।

सेना का काम भाजपा प्रवक्ता बता रहे

पूर्व रक्षा राज्यमंत्री ने भाजपा ने आरोप लगाया कि भाजपा सेना के कार्यों पर राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है। जो काम भारतीय सेना कर रही है। उसके बारे में भाजपा प्रवक्ता बयान देकर लोगों को धर्म व जाति के नाम पर वोट लेने के लिए बहका रहे हैं। जबकि भाजपा को सेना के काम में दखल को छोड़कर पांच साल में करवाए कार्यों का हिसाब देना चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ex defense state minister jitendra-singh's statement on surgical strikes
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X