रोहिंग्या मुसलमानों पर बोली साध्वी- हिंदुस्तान किसी के बाप की धर्मशाला नहीं है

Written By: Mohit
Subscribe to Oneindia Hindi

देश में रोहिंग्या मुस्लिमों की बढ़ती आबादी को लेकर साध्वी प्राची ने बड़ा बयान दिया है। साध्वी का कहना है कि रोहिंग्या मुस्लिमों को चिमटे से पकड़कर देश से बाहर करना चाहिए। साध्वी ने रोहिंग्या मुस्लिमों को आतंकवादियों से भी ज्यादा खतरनाक बताया है। साध्वी का कहना है कि देश में 40 हजार से ज्यादा मुस्लिम पैर पसार कर पड़े हैं।

साध्वी के बयान के मुताबिक देश में 40 हजार से रोहिंग्या जाति के मुस्लिम रह रहे हैं, जिनमें से 15 हजार कश्मीर में जा चुके हैं। साध्वी ने कहा, ''म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमों ने खूब कत्लेआम मचाया, जो बौद्ध पूरी दुनिया में शांति का पाठ पढ़ाते थे उनके साथ इन लोगों ने कत्लेआम किया और उनकी पत्नियों के साथ इतने दुष्कर्म किए, जिसको बताने में मुझे शर्म आती है।''

साध्वी ने कहा कि इन रोहिंग्या मुस्लिमों के 56 इस्लामिक स्टेट हैं ये लोग वहां क्यों नहीं जाते। ये लोग हिंदुस्तान के अंदर टांग फैलाकर पड़े हैं। इन लोगों का केवल एक ही काम है केवल और केवल कट्टरपंथी आतंकवाद फैलाना। दुनिया में इन्हें कोई भी शरण देने को तैयार नहीं है। सरकार को इन पर कठोर से कठोर कार्रवाई करनी चाहिए।'' सुने साध्वी का बयान-

सवाल का जवाब देते हुए साध्वी ने कहा, 'अगर सरकार इन पर विचार नहीं करेगी तो.. और मुझे तो अफसोस लगता है, मैं इतनी दुखी हूं।'' इसके अलावा साध्वी ने कई तरह की बातें कही हैं।

Rohingya Muslims से विवाद का क्या है कारण । वनइंडिया हिंदी

बता दें, साध्वी प्राची अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहती हैं। इससे पहले भी उनके कई विवादित बयान आ चुके हैं, जिन पर काफी हंगामा हुआ था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
sadhvi prachi speaks on rohingya muslims in country
Please Wait while comments are loading...