• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Hindi Diwas Speech: हिंदी दिवस पर कैसे लिखें निंबध और कैसे दे भाषण, जानिए यहां

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 14 सितंबर: भारत में हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा ने अंग्रेजी के बाद हिंदी को दूसरी आधिकारिक भाषा के रूप में घोषित किया गया था। भारत में कुल 121 भाषाएं और 270 मातृभाषाएं हैं। जिसमें से हिंदी भारत की सबसे प्रमुख भाषाओं में से एक है। भारत में लगभग 78 प्रतिशत लोग हिंदी बोलते और समझते हैं। हिंदी दिवस हिंदी के महत्व और लोगों में इसके प्रति जागरूकता बनाए रखने के मकसद से मनाया जाता है। भारत में अधिकारिक तौर पर पहली बार हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था। उसके बाद से लेकर आज तक देश में हर साल 14 सितंबर को हिंदी मनाया जाता है। तो चलिए इस हिंदी दिवस हम बताते हैं कि हिंदी दिवस पर निबंध कैसे लिखें और भाषण देने के लिए कैसे तैयारी करें।

Hindi Diwas 2021
    Hindi Diwas 2021: 14 September को क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस, जानें इसका इतिहास | वनइंडिया हिंदी

    1. हिंदी दिवस पर भाषण देने के लिए सबसे पहले अपने सामने बैठे लोगों को संबोधित करें। वहीं निबंध की शुरुआत में पहले दिन क्या है और क्यों मनाया जाता है, ये लिखें।

    2. निबंध हो या भाषण शरुआत के बाद आपको हिंदी दिवस के इतिहास और महत्व के बारे में बात करनी चाहिए।

    -हिंदी दिवस के इतिसाह और महत्व के बारे में इन प्वाइंट्स को करें हाईलाइट

    a. बोहर राजेंद्र सिंह, हजारी प्रसाद द्विवेदी, काका कालेलकर, मैथिली शरण गुप्त और सेठ गोविंद दास जैसे कई साहित्यिक इतिहासकारों के प्रयास के बाद हिंदी को 14 सितंबर 1949 को आधिकारिक भाषा की तरह अपनाया गया था।

    b.14 सितंबर 1949 को महान साहित्यकार बेहर राजेंद्र सिंह का 50वां जन्मदिन भी था, जिनका हिंदी के उत्थान में योगदान उल्लेखनीय है। इस संशोधन को आधिकारिक तौर पर भारत के संविधान द्वारा अगले वर्ष के गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी, 1950 को प्रलेखित किया गया था।

    c. हिंदी दिवस को राष्ट्रीय अवकाश के रूप में भी मनाया जाता है। इस दिन राष्ट्रीय भाषा दिवस या हिंदी दिवस दिवस को मनाने की भावना से सरकारी कार्यालय बंद रहते हैं।

    d. इस दिन देश के राष्ट्रपति उन व्यक्तियों को प्रशंसा पुरस्कार देते हैं जिन्होंने हिंदी के क्षेत्र में योगदान दिया है

    2. हिंदी भाषा के महत्व और इतिहास के बारे में बात करें। जी हां, निबंध या भाषण के मध्य में आप हिंदी भाषा के महत्व पर जोर दीजिए। जिसमें आप इन प्वाइंट को जोड़ सकते हैं

    a. हिंदी का इतिहास लगभग 1000 वर्ष पुराना है। यह देवनागरी लिपि में लिखी गई संस्कृत से उत्पन्न सबसे पुरानी बोलने वाली भाषाओं में से एक है।

    b. हिंदी आधुनिक इंडो-आर्यन भाषाओं के दायरे में आती है। हिंदी का मानक आधार हिंदुस्तानी, हिंदवी और खड़ी बोली पर आधारित है। जो 10वीं शताब्दी ईस्वी में बोली जाती थीं।

    c. हिंदी विश्व की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है। दुनियाभर में लगभग 80 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं।

    d.सबसे दिलचस्प तथ्य यह है कि हिंदी फारस की मूल भाषा है। हिंदी की पहली कविता प्रसिद्ध कवि अमीर खुसरो ने लिखी थी।

    e. ब्रजभाषा, जो 15वीं से 19वीं शताब्दी तक एक महत्वपूर्ण साहित्यिक माध्यम थी को अक्सर हिंदी की एक बोली के रूप में माना जाता है।

    ये भी पढ़ें- Hindi Diwas: 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस, जानें इस दिन का इतिहासये भी पढ़ें- Hindi Diwas: 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस, जानें इस दिन का इतिहास

    3. अंत में हिंदी दिवस का मनाया जाना क्यों जरूरी है, ये बताते हुए अपने भाषण और निबंध को खत्म करें। जिसमें आप इस बात पर जोर डाल सकते हैं कि हिंदी ही वह भाषा थी, जिसने आजादी के बाद पूरे भारत को एक साथ संयुक्त राष्ट्र के रूप में जोड़ा। हिंदी भारत की अखंडता और एकता को बनाए रखने का अचूक समाधान साबित हुआ।

    English summary
    Hindi Diwas: Speech and essay ideas for hindi Day
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X