• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check: अमेरिकी बियर कंपनी बडवाईजर का कर्मचारी करता था टैंक में पेशाब, जानिए सच

|

नई दिल्ली। शराब पीना सेहत के लिए हानिकारक होता है, यह जानते हुए भी दुनियाभर में शराब बड़े पैमाने पर बेची और उसका सेवन किया जाता है। खुशी हो या गम शराब पीने वालों को बस बहाने की जरूरत होती है और वह बोलत खोल लेते हैं। लेकिन क्या आपको पता है जिस शराब को आप मजे से पी रहे हैं उसको किस तरह बनाया जाता है। पॉपुलर अमेरिकी बीयर ब्रांड 'बडवाईजर' इन दिनों सोशल मीडिया पर सुर्खियों में छाया हुआ है, दावा किया जा रहा है कि बडवाईजर के कर्मचारी शराब के टैंक में पेशाब करते हैं। जाहिर सी बात है कि कई बीयर प्रेमियों के लिए यह बड़ा झटका है लेकिन इस दावे में कितनी सच्चाई है आज हम उसका खुलासा करने जा रहे हैं।

दावा: कर्मचारी करता था बियर टैंक में पेशाब

दावा: कर्मचारी करता था बियर टैंक में पेशाब

दरअसल, इंटरनेट पर ऐसी कई रिपोर्टें सामने आई है जिसमें दावा किया गया है कि एक बडवाईजर कर्मचारी, वाल्टर पॉवेल (बदला हुआ नाम) ने अपने एक बयान में यह स्वीकार किया है कि वह पिछले 12 साल से बडवाईजर बियर टैंकों में पेशाब करता आ रहा है। लेकिन, एक दूसरे सोशल मीडिया पेज पर वाल्टर पॉवेल के दावे वाली रिपोर्ट को झूठा बताया गया है। अब किसका दावा सच है इसको लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है।

बडवाईजर बियर के स्वाद का खुलासा

बडवाईजर बियर के स्वाद का खुलासा

Foolishhumour.com नाम की एक वेबसाइट ने अपने एक आर्टिकल में लिखा है कि वाल्टर पॉवेल ने बडवाईजर बियर के स्वाद के बारे में लोगों के संदेह को दूर करने का फैसला किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वह एक दशक से अधिक समय से बियर के टैंकों में पेशाब करते आ रहे हैं। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि वाल्टर पॉवेल ने ऐसा केवल बडवाईजर ब्रूअरी एक्सपीरियंस (फोर्ट कॉलिंस, सीओ) में काम के दौरान किया है और बाकी बडवाईजर जो अन्य शहरों में बने हैं उनमें पेशाब नहीं है।

शौचालय दूर था इसलिए करता था टैंक में पेशाब

शौचालय दूर था इसलिए करता था टैंक में पेशाब

रिपोर्ट के मुताबिक वाल्टर ने कहा, जब मैं कभी अपने दोस्तों के साथ होता हूं और वह बडवाईजर के स्वाद के बारे में पूछते हैं तो मैं शरमा जाता हूं, मैं मन में ही उनको बेचारा बोलता हूं। उसने आगे बताया कि मैं दो साल काम करने के दौरान अपने सीनियर्स का विश्वास जीता, उस समय मैं टैंक में पानी डालता था। वाल्टर के मुताबिक उसे खुद नहीं पता कि वह ऐसा क्यों करता था। उसने कहा, मैं बहुत आलसी था और मेरे काम करने वाले स्थान से शौचालय बहुत दूर था मैं बिना कुछ सोचे बस टैंक में पेशाब कर देता था।

दूसरी वेबसाइट ने आर्टिकल को बताया फर्जी

दूसरी वेबसाइट ने आर्टिकल को बताया फर्जी

वाल्टर ने आगे कहा, हालांकि अब मैं ऐसा फिर से नहीं करने वाला अब लोग बडवाईजर बियर के वास्तविक स्वाद का आनंद ले सकते हैं। एक अन्य वेबसाइट ने वाल्टर के हवाले से किए गए इस दावे को झूठा बताया है। वेबसाइट ने इस लेख को फर्जी होने का दावा किया है। Foolishhumour के लेख पर कहा गया है कि यह हास्यपूर्ण वेबसाइट है जिसका उद्देश्य सिर्फ लोगों का मनोरंजन करना है। वाल्टर के लेख के अंत में वेबसाइट की तरफ से एक डिस्क्लेमर भी दिया गया है जिसमें यह उल्लेख है कि वेबसाइट पर छपा लेख काल्पनिक और हास्यास्पद है जिसका वास्तविकता के कोई लेना देना नहीं है।

प्रवासी मजदूर ने नाम पर वायरल हो रही है नेपाली महिला की पुरानी तस्वीर फैक्ट चेक में हुई फेल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
employee of American beer company Budweiser used to urinate in the tank know the truth
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X