• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

तेलंगाना में ट्रांसजेंडर डॉक्टर्स को पहली बार मिली सरकारी नौकरी

नई दिल्ली,29 नवंबर: तेलंगाना में पिछले हफ्ते प्राची राठौर और रूथ जॉन कोयाला ने इतिहास रच दिया। दरअसल, ये दोनों पहली ट्रांसजेंडर जोड़ी बनी है, जिसे राज्य में सरकारी नौकरी हासिल हुई है।
Google Oneindia News

नई दिल्ली,29 नवंबर: तेलंगाना में पिछले हफ्ते प्राची राठौर और रूथ जॉन कोयाला ने इतिहास रच दिया। दरअसल, ये दोनों पहली ट्रांसजेंडर जोड़ी बनी है, जिसे राज्य में सरकारी नौकरी हासिल हुई है। प्राची और रूथ जॉन को राज्य सरकार द्वारा संचालित उस्मानिया जनरल अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर के तौर पर नियुक्त किया गया है। दोनों का Sarkari Naukri के लिए चुना जाना ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए ऐतिहासिक जीत है। ये समुदाय सरकारी सेक्टर में अपनी भागीदारी के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रहा है। ऐसे में देर से ही सही मगर ट्रांसजेंडर्स का प्रतिनिधित्व शुरू हो गया है।

naukri
खम्मम जिले की रहने वाली डॉ रूथ जॉन ने कहा, 'ये मेरे और मेरे समुदाय के लिए बहुत बड़ा दिन है। मुझे इस बात की उम्मीद नहीं थी, क्योंकि 2018 में ग्रेजुएट होने के बाद मुझे हैदराबाद के 15 अस्पतालों से रिजेक्शन झेलना पड़ा। उन्होंने मुझे सीधे तौर पर कभी नहीं बताया कि रिजेक्शन की वजह मेरी पहचान है, लेकिन ये बहुत स्पष्ट होता था।'

अपने सफर को याद करते हुए उन्होंने कहा, 'एमबीबीएस के बाद जब मेरी पहचान दुनिया के सामने आ गई, तो मेरी क्वालिफिकेशन किसी भी अस्पताल के लिए मायने नहीं रखती थी।' डॉ रूथ जॉन ने हैदराबाद के मल्ला रेड्डी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से पढ़ाई की है।

जेंडर की वजह छोड़नी पड़ी जॉब
डॉ प्राची की कहानी भी बिल्कुल डॉ रूथ की तरह ही रहा है। उन्होंने प्राइवेट सेक्टर में काम करने के दौरान जेंडर चेंज का प्रोसेस शुरू किया। 30 वर्षीय डॉक्टर ने बताया, 'जब प्राइवेट अस्पताल को ट्रांजिशन के बारे में मालूम चला, तो मुझे वहां से जाने को कहा गया। उन्होंने मेरे साथ रूखा व्यवहार करते हुए कहा कि मेरी पहचान की वजह से मरीज अस्पताल में आना बंद कर देंगेष' डॉ प्राची ने अदिलाबाद के RIMS से MBBS की डिग्री हासिल की है।

ट्रांसजेंडर क्लिनिक 'मित्र' में किया काम
वहीं, दोनों ही डॉक्टर्स लगातार मिल रहे रिजेक्शन के बाद USAID के ट्रांसजेंडर क्लिनिक 'मित्र' पहुंचें, जो नारायणगुडा में स्थित है. 2021 में 'मित्र' ज्वाइन करने के बाद उनकी रोजी-रोटी शुरू हुई। हालांकि, ये वो समय था, जब दोनों डॉक्टर्स काम के साथ-साथ सर्जरी के प्रोसेस से गुजर रहे थे। ये उनके लिए कठिन समय था।

Comments
English summary
Transgender doctors get government jobs for the first time in Telangana
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X