• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

वाराणसी: व्यायामशाला से निर्वस्त्र भागी युवती को महिलाओं ने दिए कपड़े, फैले सबूत धुलवाकर पुलिस ने की लापरवाही

|
Google Oneindia News

वाराणसी, 20 अक्टूबर। मंगलवार की रात में शहर के बीच में बने व्यायामशाला से निकलकर एक युवती बदहवाश भागी। वह खून से सनी निर्वस्त्र थी। भागकर वह एक घर के पास जा छुपी जहां सुबह में लोगों ने उसे देखा। महिलाओं ने उसे कपड़े पहनाए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़ित महिला को मेडिकल जांच के लिए भेजा। वहीं, जब पुलिस व्यायामशाला में गई तो वहां खून फैला था। कूड़े के ढेर में ऐसे सबूत थे जिससे पता चल रहा था कि युवती के साथ शायद दरिंदगी की गई है। पुलिस ने जांच के लिए फोरेंसिंक टीम को नहीं बुलाया। स्थानीय लोगों के मुताबिक, पुलिस ने लापरवाही करते हुए व्यायामशाला में फैले खून को धुलवा दिया।

रात में व्यायामशाला से भागी युवती

रात में व्यायामशाला से भागी युवती

मामला शहर के भेलूपुर थाना क्षेत्र खोजवां इलाके का है। यहां कोल्हुआवीर व्यायामशाला और उससे लगा मंदिर है जहां यह घटना हुई है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, रात में कुछ लोग व्यायामशाला के अंदर जाते देखे गए थे। इस जगह की देखरेख में लगे विश्वनाथ का कहना है कि व्यायामशाला में रात में कोई नहीं रहता है लेकिन इसका एक गेट खुला रहता है। उसी रास्ते से युवती को कोई ले गया होगा। रात में युवती अंदर से निकलकर भागी और एक घर के पास जाकर छिपी थी। सुबह लोगों ने उसे देखा तो पुलिस को इसकी सूचना मिली। पीड़ित युवती को महिलाओं ने कपड़े दिए। मौके पर थानेदार समेत एडीसीपी राजेश पांडेय और एसीपी भेलुपुर प्रवीण कुमार सिंह पहुंचे।

पुलिस ने वाशिंग पाउडर से धुलवा दिया खून

पुलिस ने वाशिंग पाउडर से धुलवा दिया खून

पुलिस के आलाधिकारियों ने व्यायामशाला के अंदर जाकर देखा तो वहां खून फैला था। कूड़े के ढेर में शराब की बोतलें, सिगरेट समेत अन्य चीजें मिलीं जो इस बात की गवाही दे रहे थे कि यहां लोग आकर नशा करते थे। स्थानीय लोगों का कहना है कि वे इस बारे में कई बार पुलिस को बता चुके हैं कि व्यायामशाला असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है लेकिन आरोप है कि पुलिस ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। पुलिस ने व्यायामशाला के अंदर फैले खून को वाशिंग पाउडर डालकर धुलवा दिया। स्थानीय लोगों ने पुलिस पर इस मामले में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि जांच के लिए फोरेंसिक टीम को बुलाना चाहिए था जो कि पुलिस ने नहीं किया।

एक से ज्यादा लोगों ने किया रेप?

एक से ज्यादा लोगों ने किया रेप?

पुलिस के मुताबिक, प्रथमदृश्टया युवती के साथ रेप हुआ है, ऐसा लगता है लेकिन मेडिकल जांच के बाद ही इस बारे में कुछ कहा जा सकता है। पुलिस ने पीड़िता को मंडलीय अस्पताल जांच के लिए भेजा। महिला बंगाली है और उसकी हालत इतनी खराब थी कि वो कुछ भी बोल पाने की स्थिति में नहीं थी। पुलिस को सूचना देने वाले मोहल्ला निवासी विकास यादव ने बताया कि खून इतना ज्यादा निकला था कि लोग देखकर घबरा गए थे। उन्होंने 112 नंबर डायल कर पुलिस को बुलाया। आशंका जताई जा रही है कि युवती के साथ एक से ज्यादा दरिंदों ने दुष्कर्म किया है। फिलहाल पुलिस मामले की आगे जांच कर रही है।

आगरा में सफाईकर्मी की पुलिस हिरासत में मौत, 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड, पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा आगरा में सफाईकर्मी की पुलिस हिरासत में मौत, 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड, पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा

Comments
English summary
Negligence of city police in woman case who found stripped
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X