• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

जन्मदिन को ही 15 वर्षीय किशोर की होगी अंत्येष्टि, मां-बाप का रो रोकर बुरा हाल

वाराणसी में गंगा नदी में डूबे किशोर की जन्मदिन को होगी किशोर कि अंत्येष्टि, मां-बाप का रो रोकर बुरा हाल
Google Oneindia News

वाराणसी, 26 जुलाई : वाराणसी में हरिश्चंद्र घाट के सामने रविवार को गंगा नदी में दोस्तों संग स्नान करने पहुंचे दो मौसेरे भाई डूब गए थे। जिसमें एक किशोर का शव पुलिस ने रविवार को ही सांयकाल बरामद कर लिया था जबकी दूसरे किशोर का शव काफी खोजबीन के बाद भी नहीं मिला। सोमवार को दोपहर में गंगा किनारे शव उतराया दिखाई दिया तो नाविकों ने पुलिस को सूचना दी। उसकि शिनाख्त डूबे हुए किशोर रोहित के रूप में हुई। आज अर्थात 26 जुलाई को ही रोहित का जन्म हुआ था। ऐसे में अब आज ही उसकि अंतेष्टि की जाएगी। इस घटना से पूरे परिवार सहित मृतक के गांव में मातम पसरा है।

Varanasi police

धूमधाम से मनाया जाने वाला था जन्मदिन
मूल रुप से सोनभद्र जिले के पन्नूगंज थानान्तर्गत चिंतावतपुर गांव के रहने वाले कृष्ण कुमार अपने परिवार के साथ रामनगर थाना क्षेत्र के भीटी में स्थित अभिनव बिहार कालोनी में रहते हैं। 26 जुलाई को उनके बेटे रोहित का जन्मदिन था, बेटे का 15 वां जन्मदिन उसके माता पिता धूमधाम से मनाने वाले थे। जन्मदिन मनाने के लिये तैयारियां पहले से ही चल रही थी और रिश्तेदारों व जान-पहचान के लोगों को निमंत्रण कार्ड भी दे दिया गया था। हालांकि रविवार को वाराणसी में गंगा नदी में डूबने के चलते परिवार में मातम का माहौल है। सोमवार को सायंकाल पोस्टमार्टम किये जाने के बाद रोहित का शव उसके परिजनों को दिया गया। परिजन उसके शव को लेकर सोनभद्र चले गए। मंगलवार को जन्मदिन की जगह उसकी अंतेष्टि की जायेगी। इस घटना से रोहित के पिता कृष्ण कुमार और उसकि मां सुनीता देवी का बुरा हाल है। उसकि मां बीमार हो गई, जिसके चलते अस्पताल में भर्ती भी कराया गया।

दोस्तों के साथ घूमने निकला और उठा लिए गलत कदम
रविवार को रोहित अपने मौसेरे भाई रत्नेश और भोला, सुजल व ऋषि के साथ गंगा किनारे घूमने के लिये आया था। इस दौरान सभी लाेगों ने नदी में स्नान करने का मन बनया। गंगा नदी में बाढ़ का पानी होने के चलते स्नान करते समय रोहित श्रीवास्तव (15) गहरे पानी में चला गया। रोहित को डूबता देख उसका मौसेरा भाई रत्नेश(20) उसे बचाने के लिए पहुंचा। दोस्‍तों ने बताया कि इस दौरान खुद को बचाने के लिए रोहित ने रत्नेश को भी पकड़ लिया जिससे दोनों डूब गए। सूचना मलने के बाद पुलिस और गोताखोर व एनडीआरएफ की टीम वहां पहुंची। काफी खोजबीन करने के बाद रविवार को ही रत्नेश का शव बरामद कर लिया गया जबकी रोहित का शव सोमवार को सूजाबाद क्षेत्र में गंगा किनारे उतराया हुआ मिला, उसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

Kargil Vijay Diwas Gorakhpur : गोरखपुर को नाज है अपने लाल शिव सिंह छेत्री पर,महज 23 साल में हुए थे शहीदKargil Vijay Diwas Gorakhpur : गोरखपुर को नाज है अपने लाल शिव सिंह छेत्री पर,महज 23 साल में हुए थे शहीद

Comments
English summary
funeral will be done on the birthday of the child
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X