• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उत्तराखंड में बारिश ने मचाई आफत, पुल टूटने के बाद बनाया गया अस्थाई रोड भी बहा

|
Google Oneindia News

देहरादून। हिमालयी प्रदेश उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश इन दिनों भारी बारिश व भूस्खलन से जूझ रहे हैं। निचले क्षेत्रों में जलभराव से आबाद इलाके मुसीबतों से घिरे हैं। वहीं, बीती रात भारी बारिश के कारण देहरादून-रानीपोखरी-ऋषिकेश राजमार्ग क्षतिग्रस्त हो गया। जाखन नदी पर बने पुल के कुछ हिस्से टूट गए। उसके बाद पुल का अगला हिस्सा गिरकर बह गया। इसी के साथ वाहन भी नदी की जलधारा में बहते दिखे। बता दें कि, पिछले दिनों ही लोगों और छोटे वाहनों की आवाजाही को सुगम बनाने के लिए एक वैकल्पिक मार्ग बनाया गया था। रात के बारिश के बाद से हालात अब काफी खराब हो गए हैं। न्यूज एजेंसी ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें देखा जा सकता है कि मार्ग पूरी तरह बंद है।

    Uttarakhand में भारी बारिश ने मचाई तबाही, नदी में बह गया पुल | वनइंडिया हिंदी
    heavy rains in Uttarakhand

    पहाड़ दरकने से नेशनल हाईवे भी बाधित
    बीते रोज हिमाचल प्रदेश में राजधानी शिमला के ज्योरी इलाके के पास पहाड़ टूटकर ढह गया। जिससे नेशनल हाईवे-5 की राह रुक गई। सड़क पूरी तरह खराब हो गई और वहां पहाड़ी का मलबा जमा हो गया। टूटे पहाड़ की बड़ी-बड़ी शिलाएं तेज आवाज के साथ नीचे गिरीं। पता चलने पर प्रशासन ने स्थिति का जायजा लेने के लिए एसडीएम रामपुर और एक पुलिस-जाब्ते को मौके पर भेजा। सूचना मिलने पर उच्चाधिकारी भी रवाना हो गए। न्यूज एजेंसी ने बताया कि, NH-5 पर हुए भूस्खलन में कोई मानव या संपत्ति के नुकसान की तो सूचना नहीं है। हालांकि, रास्ता रुक गया है।

    heavy rains in Uttarakhand

    ..लगातार हो रहा भूस्खलन
    पहाड़ी राज्य होने की वजह से हिमाचल और उत्तराखंड में भूस्खलन की घटनाएं लगातार हो रही हैं। पिछले महीने कई जिलों में पहाड़ दरके। किन्नौर जिले में रिकांगपियो-शिमला राजमार्ग पर चट्टान टूटकर गिरी थीं, जिससे कई वाहन दब गए। हादसे में 14 लोगों की मौत हुई थी और 13 को घायल अवस्था में रेस्क्यू किया गया था। उसी प्रकार किन्नौर जिले के एक अन्य हादसे में 4 वाहन मलबे में दब गए। बचाव कार्य में सेना, आईटीबीपी, एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन की टीमों को लगाया गया। आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक पांडेय ने बताया कि, ऊपर से पत्थर गिरने से बचाव कार्य बाधित हुआ था। उन्होंने कहा कि, यह इलाका ऐसा ही है जहां भूस्खलन की संभावना ज्यादा रहती है। जिसके चलते राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हो जाते हैं।

    heavy rains in Uttarakhand

    हिमाचल में पहाड़ ढहा, राजधानी शिमला के पास NH-5 तबाह, मोटी-मोटी शिलाएं नीचे गिरीं- VIDEOहिमाचल में पहाड़ ढहा, राजधानी शिमला के पास NH-5 तबाह, मोटी-मोटी शिलाएं नीचे गिरीं- VIDEO

    पिछले माह चंद्रभागा नदी में पानी का प्रवाह रुक जाने की वजह से आसपास के आबादी वाले इलाकों पर खंतरा मंडरा गया था। जलभराव की वजह से जूंडा, तडंग और जसरथ गांवों में फसल-बर्बादी हुई। लोग पलायन करने को मजबूर हो गए। जिला प्रशासन ने स्थानीय लोगों को नदी के पास नहीं जाने की सलाह दी। एक अधिकारी ने कहा कि, हिमाचल प्रदेश में पिछले कुछ दिनों के अंदर भूस्खलन की कई बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं, जिनमें जान-माल का भारी नुकसान हुआ। नेशनल हाईवे-5 पर अगस्त महीने में निगुलसेरी के पास पहाड़ खिसकर खाई में जा गिरा था।

    English summary
    WATCH Video: bridge over Jakhan river collapsed Due to heavy rains in Uttarakhand, Dehradun-Ranipokhari-Rishikesh highway closed
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X