• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Uttarakhand: सरकार की परिवहन नीतियों के खिलाफ विक्रम ऑटो महासंघ ने किया चक्का जाम, विधानासभा कूच कर दी चेतावनी

उत्तराखंड सरकार की परिवहन नीतियों के खिलाफ उत्तराखण्ड विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ ने मंगलवार को चक्का जाम कर विधानसभा कूच किया। कांग्रेस पार्टी ने विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ को अपना समर्थन दिया।
Google Oneindia News

उत्तराखंड सरकार की परिवहन नीतियों के खिलाफ उत्तराखण्ड विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ ने मंगलवार को चक्का जाम कर विधानसभा कूच किया। इस दौरान पूरी तरह से प्रदेशभर में विक्रम ऑटो बंद रहे। सभी ने एकजुट होकर अपनी मांगों को लेकर पूरे प्रदेश में राज्य सरकार की परिवहन नीतियों के विरोध में चक्का जाम किया। कांग्रेस पार्टी ने विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ को अपना समर्थन दिया।

Vikram Auto Transport Federation protested policies government Vidhansabha closed chakka jam

विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ ने कूच किया

मंगलवार से शुरू हुूए विधानसभा सत्र के पहले ही दिन विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ ने कूच किया। रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल में उत्तराखण्ड विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ द्वारा अपनी महत्वपूर्ण मांगों को लेकर पूरे प्रदेश में राज्य सरकार की परिवहन नीतियों के विरोध में इकट्टा हुए और वहां से रैली के रूप में प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विधानसभा के पास पहुंचे तो पुलिस ने बैरीकैडिंग लगाकर सभी को रोक लिया और इस दौरान पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच नोंकझोंक व धक्का मुक्की होने के बाद सभी वहीं धरने पर बैठ गये। इस अवसर पर परिवहन व्यवसायियों ने कहा कि सरकार ने वर्तमान में विक्रम की अवधि 7 वर्ष एवं सिटी बसों की अवधि 15 वर्ष रखी है जो कि निराधार है। उन्होंने कहा जबकि उच्च न्यायालय के सिंगल व डबल वैंच ने सरकार के इस अव्यवहारिक निर्णय को निरस्त किया है। उनका कहना है कि सरकार उच्च न्यायालय के आदेशों का भी पालन नही कर रही है। जिससे ऑटो चालक संगठन सड़कों पर उतरकर अपनी न्यायोचित मांगों को लेकर संघर्ष करने को मजबूर है। उनका कहना है कि सरकार खुलेआम कानून का मखौल उड़ा रही है। उनका कहना है कि उन पर हो रहे अत्याचार का पुरजोर विरोध करते है तथा सरकार से पुरानी परिवहन नीति ही लागू करने की मांग की है।

फिटनेस के लिए केवल एक सेंन्टर डोईवाला लालतप्पड में

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पूरे प्रदेश में वाहनों की फिटनेस के लिए केवल एक सेंन्टर डोईवाला लालतप्पड में स्थापित किया गया है जो कि सरकार की 28 किमी. परिमिट नीति के खिलाफ है। वाहन मालिकांे को वाहनों की फिटनेश कराने के लिए संेटर के कई चक्कर लगाने पड़ रहे हैं होना यह चाहिए था कि सरकार को अपनी नीति के अनुरूप 28 किमी. की परिधि के अन्तर्गत ही फिटनेस सेंन्टर स्थापित करने चाहिए थे ऐसा न करके सरकार ने ऑटो विक्रम चालक मालिकों का मानसिक उत्पीड़न किया है। सरकार ने उनके हाथों में कटोरा थमां दिया है।

मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया

परिवहन व्यवसायियों का कहना है कि आज एक दिन का चक्का जाम किया है और सरकार ने पुरानी व्यवस्था को लागू नहीं किया तो अनिश्चितकालीन चक्का जाम किया जायेगा। इस अवसर पर प्रशासनिक अधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया। इस अवसर पर प्रदेश भर से आये हुए परिवहन व्यवसायी शामिल रहे। प्रदर्शनकारियों को अपना समर्थन देते हुए कांग्रेस की विधायक ममता राकेश ने कहा है कि राज्य सरकार की परिवहन नीति को सदन में प्रमुखता से उठाया जायेगा और उन्होंने कहा कि राज्य सरकार वर्तमान में ऑटों, विक्रम एवं डीजल चालित वाहनों को बन्द करने से प्रदेश के हजारांे लोग बेरोजगार होने की कगार में हैं। उन्होंने कहा कि सरकार का यह निर्णय अव्यवहारिक है। उन्होंने कहा कि सरकार ने 15 साल का समय दिया था लेकिन सरकार अपने वायदे से मुकर रही है। पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि प्रदेश सरकार ने काला कानून वापस लिये जाने की मांग की है और काले कानून को जब तक वापस नहीं लेती है तो कांग्रेस व्यापक स्तर पर आंदोलन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार आगामी एक मार्च से सिटी बसों एवं विक्रमों को बाहर का रास्ता दिखा रही है जिन्हें क्रमशः 15 वर्ष एवं 7 वर्ष की अवधि हो चुकी है।

ये भी पढ़ें-Uttarakhand: Google Map imagery में हरित क्षेत्र में दिखी कमी, High court ने निर्माण गतिविधियों पर लगाई रोकये भी पढ़ें-Uttarakhand: Google Map imagery में हरित क्षेत्र में दिखी कमी, High court ने निर्माण गतिविधियों पर लगाई रोक

Comments
English summary
Uttarakhand Vikram Auto Transport Federation protested against the transport policies of the Uttarakhand government and marched to the Vidhansabha on Tuesday by blocking the road. During this, Vikram Auto remained completely closed across the state. All of them unitedly staged a chakka jam in protest against the transport policies of the state government in the entire state for their demands.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X