• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

उत्तराखंड विधानसभा सत्र का तीसरा दिन:जिला विकास प्राधिकरण और भ्रष्ट्राचार पर विपक्ष का हंगामा

|
Google Oneindia News

देहरादून, 16 जून। उत्तराखंड में विधानसभा सत्र के तीसरे दिन कांग्रेस ने जमकर हंगामा किया। कांग्रेस ने जिला विकास प्राधिकरण के मुद्दे पर सरकार को घेरा। विपक्ष ने आरोप लगाया कि जिला विकास प्राधिकरण भ्रष्टाचार का अड्डा बन गए हैं। विपक्ष ने बजट पर चर्चा के दौरान भी सदन में जमकर हंगामा काटा।

 Third day of Uttarakhand assembly session - Oppositions uproar over District Development Authority and corruption

सड़क से सदन तक कांग्रेस का हंगामा
गुरूवार को सदन से सड़क तक कांग्रेसी मुखर नजर आए। सड़क पर राहुल गांधी को ईडी के दफ्तर बुलाने और कांग्रेसियों से गलत व्यवहार के विरोध में जहां कांग्रेसियों ने राजभवन कूच किया। वही सदन के अंदर भ्रष्ट्राचार के मुद्दे पर सरकार को जमकर घेरा। बजट सत्र के तीसरे दिन प्रश्नकाल में शिक्षा, चिकित्सा, सहकारिता, वन विभाग आदि कई विभागों से संबंधित सवाल किए गए। सबसे ज्यादा मुखर कांग्रेस विधायक प्रीतम सिंह नजर आए। जिन्होंने सहकारिता विभाग में भ्रष्ट्राचार का मुद्दा उठाया। सवाल का जबाव देते हुए मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि हरिद्वार में भर्ती के दौरान भ्रष्ट्राचार की शिकायत आई थी, जिस पर कार्रवाई की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि अगर​ विपक्ष चाहे तो इसकी एसआईटी जांच कराई जाएगी। विपक्ष ने वनाग्नि और इससे होने वाले नुकसान को लेकर भी सरकार को घेरने की कोशिश की।
जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण खत्म करने की मांग
लेकिन सबसे ज्यादा हंगामा जिला विकास प्राधिकरणों पर नियम 58 में सबसे पहले चर्चा शुरू होते ही विपक्ष ने सदन में सवाल उठाने के साथ जोरदार हंगामा किया। जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण खत्म करने को लेकर विपक्ष का अड़ा रहा। जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण खत्म करने को लेकर विपक्ष ने सदन में पहले हंगामा किया। इसके बाद कांग्रेस विधायक वेल में धरने पर बैठ गए हैं। विपक्ष ने कहा पूर्व में विधानसभा से जो कमेटी चंदन रामदास की अध्यक्षता में गठित हुई थी, उसकी रिपोर्ट कहां गई। संसदीय कार्य मंत्री एवं शहरी विकास मंत्री प्रेम चंद अग्रवाल ने सरकार का पक्ष रखा। लेकिन विपक्षी विधायक वेल में हंगामा करते रहे। जिसके चलते आखिर में सदन शुक्रवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। शुक्रवार को बजट पास करने के साथ ही सत्र को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जा सकता है। कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में विपक्ष ने सत्र को शुक्रवार तक ही चलाने का विरोध किया है। विपक्ष 20 जून तक सत्र चलाने की मांग कर रहा है।

ये भी पढ़ें-केन्द्र पर लगाया हिटलरशाही का आरोप, राजभवन कूच कर कांग्रेसियों ने जमकर किया विरोध प्रदर्शनये भी पढ़ें-केन्द्र पर लगाया हिटलरशाही का आरोप, राजभवन कूच कर कांग्रेसियों ने जमकर किया विरोध प्रदर्शन

Comments
English summary
Third day of Uttarakhand assembly session - Opposition's uproar over District Development Authority and corruption
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X