• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उत्तराखंड में पेंशन पाने वाले नवंबर तक जमा कर सकते हैं जीवन प्रमाणपत्र, सरकार ने दी यह छूट

|

देहरादून। कोरोना वायरस संक्रमण के बीच उत्तराखंड सरकार पेंशनरों के जीवन प्रमाण पत्र कोषागारों और उपकोषागारों में जमा करने की छूट को बढ़ा दिया है। अब पेंशनर्स जीवन प्रमाण पत्र नवंबर तक जमा कर सकते है। उत्तराखंड सरकार ने यह फैसला प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया है।

Pensioners in Uttarakhand can submit life certificates by November

दरअसल, पेंशनर्स को साल में एक बार जीवन प्रमाण पत्र सत्यापन कराने की व्यवस्था है। जिसके तहत सेवानिवृत्ति के महीने और पारिवारिक पेंशनर्स को पेंशन मंजूर होने के महीने में जीवन प्रमाण पत्र सत्यापन करना होता है। इसके अतिरिक्त जीवन प्रमाणपत्र ऑनलाइन किए जाने का प्रविधान भी किया गया है, लेकिन संक्रमण के चलते पेंशनभोगी ऑनलाइन जीवन प्रमाणपत्र जमा करने के लिए नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पहुंचने में असमर्थ हैं। साथ ही ऑफलाइन जीवन प्रमाणपत्र कोषागारों और उपकोषागारों में उपलब्ध कराने में भी व्यावहारिक कठिनाई है।

इसे देखते हुए सरकार ने जुलाई महीने में पेंशनभोगियों को राहत देते हुए लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने को लेकर सितंबर तक की छूट दी थी। हालांकि, कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आई और अब प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है। आए दिन नए मामले सामने आ रहे हैं, जिसे देखते हुए सरकार ने एकबार फिर पेंशनर्स को राहत दी और इस छूट को अब नवंबर तक के लिए बढ़ा दिया है। बुधवार को सचिव अमित सिंह नेगी ने इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिए है।

21 सितंबर से नहीं खुलेंगे कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल, Uttarakhand सरकार ने लिया फैसला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pensioners in Uttarakhand can submit life certificates by November
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X