शर्मनाक: युवक को बांधकर दबंगों ने दिया इलेक्ट्रिक शॉक, VIRAL VIDEO

Subscribe to Oneindia Hindi

आजमगढ़। उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ के सरायमीर इलाके के शेरवा गांव का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। इस वीडियो में एक शख्स को कुछ लोग तख्ते पर बांधकर उसे इलेक्ट्रिक शॉक दे रहे है। पीड़ित इन दबंगों से मिन्नते किये जा रहा हैं, लेकिन ये लोग उसके दोनों पैरों में बिजली का तार लगाकर उसे करंट लगाते हुए हंस भी रहे हैं। ये वीडियो किसी और ने नहीं बल्कि उन्हीं दबंग लोगों ने बनाया है और मोबाइल की चोरी का आरोप लगाते हुए वीडियो में बकायदा इस शख्स के साथ पूछताछ भी की जा रही है। वहीं इस घटना के बाद पीड़ित ने सम्बंधित थाने में कुल 9 लोगों के खिलाफ तहरीर दी है जिसमें पुलिस ने चार नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी 5 आरोपियों को भी सरायमीर थाने की पुलिस तलाश रही है।

Read Also: VIDEO: इस वीडियो से खुला सच वरना हो सकता था सांप्रदायिक बवाल

शर्मनाक: युवक को बांधकर दबंगों ने दिया इलेक्ट्रिक शॉक, VIDEO

क्या है पूरा मामला

दरअसल 12 जुलाई को ही शेरवा गांव के शिवकुमार नौकरी की तलाश में यूसुफ के कपड़े की दुकान पर काम मांगने गया था। काम की जानकारी लेने के बाद बात करते-करते नमाज का वक्त हो जाने पर यूसुफ अपना मोबाइल फोन दुकान पर ही छोड़ कर चले गए और जब वापस आये तो उनका फोन नहीं मिला। इसी बात पर शिवकुमार के घर जा धमके और उस पर मोबाइल चुराने का आरोप लगाया। शिवकुमार अपनी सफाई दे ही रहा था।

यूसुफ के परिवार वाले शिवकुमार को जबरदस्ती घर से उठा पर अपने गांव सरायमीर ले आये और मारपीट के बाद एक तबेले में तख्त पर लिटा कर उसका हाथ बांध दिया और मोबाइल के बारे में पूछताछ करते हुए उसके पैरों में बिजली का तार लगा कर उसे इलेक्ट्रिक शॉक देना शुरू कर दिया। यही नहीं इस पूरे प्रकरण का वीडियो भी यूसुफ के परिजनों ने ही बनाया है। उसी के परिवार के किसी सदस्य ने इसे वायरल भी कर दिया जिसके बाद शिवकुमार ने सम्बंधित थाने में यूसुफ और उसके परिजनों सहित 9 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई है।

क्या कहती है पुलिस

इस पूरे मामले पर जब हमने सरायमीर थाने के प्रभारी रामनरेश यादव से बात की तो उन्होंने बताया कि कम्प्लेन करने वाला शिवकुमार हलांकि खुद आपराधिक छवि का शख्स है और उसके ऊपर चोरी, लूट सहित कई मामलो में एक दर्जन मुकदमे भी हैं। यही नहीं कई बार शिवकुमार जेल भी जा चुका है। हो सकता है कि शिवकुमार ने ही मोबाइल फोन चोरी की हो लेकिन किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं हैं। यूसुफ का फोन चोरी हुआ था तो उन्हें पुलिस के पास आना चाहिए था ना की खुद उसे सजा देनी चाहिए। ऐसे में शिवकुमार को करंट लगाए जाने के आरोप में 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है जिनमे अदनान, अतीक, राशिक, तारिक को गिरफ्तार कर लिया गया हैं जबकि युसूफ,अयूब,शफीक और रिजवान फरार चल रहे हैं, जिनकी हम तलाश कर रहे हैं।

Read Also: VIDEO: दबंगई करते यूपी पुलिस ने दिखाया अमानवीय चेहरा, बोले अपशब्द

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Youth given electric shock in Azamgarh, Uttar Pradesh.
Please Wait while comments are loading...