ट्रिपल मर्डर से हड़कंप, रात में रेंत डाले गए मां-बेटे

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मथुर। मथुरा में एक साथ हुए धारदार हथियार से तीन हत्याओं ने सनसनी फैला दी है। मामला थाना सदर बाजार इलाके का है, जैसे ही लोगों को रात को हुए मां और दो बेटों के मर्डर की जानकारी मिली तो बहां दहशत और शोक का माहौल बन गया और एक साथ हुई तीन हत्याओं की जानकारी लगते ही मथुरा के एसएसपी सहित अन्य पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद पुलिस इस जघन्य हत्याकांड की जांच में जुट गई है। वहीं फरार हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए भी सख्त निर्देश दिए गए हैं।

Triple Murder in Mathura, Mother been murdered with two children

थाना सदर बाजार इलाके के गणेश पुरम कॉलोनी में आज उस समय हाहाकार मच गया जब यहां की रहने वाली शशि और उसके 17 वर्ष के बेटे जय किशन और आठ साल के नीरज की रात सोते समय बड़ी ही बेरहमी से काटकर हत्या कर दी गई। घटना के बाद से हत्यारे फरार हो गए, जैसे ही इस तिहरे हत्याकांड की लोगों को जानकारी हुई तो घटना स्थल पर लोगों का हुजूम लग गया। सभी शोक में डूब गए जिसके बाद जब घटना की जानकारी सदर पुलिस को हुई तो मथुरा के एसएसपी और एसपी सिटी भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने बारीकी से घटना स्थल का निरीक्षण किया और फॉरेंसिक टीम के साथ-साथ डॉग स्क्वायड टीम को भी हत्यारों के सुराग जुटाने के लिए मौके पर बुलाया गया है। जोकि हर सबूत की गहनता से छानबीन कर रहे हैं।

वहीं घटना स्थल पर आए एसएसपी स्वप्निल ममगई ने बताया कि मृतक और उसके पति के बीच घरेलू झगड़ा होने की जानकारी मिली है और जो मृतक शशि का पति है। उससे शशि को एक लड़की है जोकि सुरक्षित है और ये दोनों मृतक लड़के नीरज और जयकिशन उसके सौतेले बेटे हैं। चूंकि मृतक महिला का पति रविवार शाम को घर आया था और वो झगड़े को लेकर एक पंचायत भी करना चाहता था लेकिन वो पंचायत नहीं हुई और लोगों ने महिला के पति को घर आते हुए तो देखा मगर जाते हुए नहीं देखा। इसीलिए उसपर भी हत्या के शक की सुई घूमती नजर आ रही है और यहां पर मिले तीनों मृतकों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा जा रहा है।

Read more: पहले प्रिंसिपल पत्नी से फोन पर पूछा फिर यमुना में कूदकर की आत्महत्या

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Triple Murder in Mathura, Mother been murdered with two children
Please Wait while comments are loading...