• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपीटीईटी 2018: परीक्षा के फुलप्रूफ होने के दावों की खुली पोल, कई जिलों में पकड़े गए सॉल्वर, लाखों की थी डील

|

इलाहाबाद। यूपीटीईटी यानी शिक्षक पात्रता परीक्षा को फुलप्रूफ करने के सरकारी दावे के हवा निकल चुकी है। यह परीक्षा 18 नवंबर रविवार के दिन आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में कई जिलों से परीक्षा में सेंधमारी कर रहे लोगों की गिरफ्तारी की गई। परीक्षा में सेंधमारी कर रहे 32 लोगों को एसटीएफ व स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार किया है। श्रावस्ती जिले में ननद की जगह परीक्षा दे रही लेखपाल भाभी को पकड़ा गया और उसे जेल भेज दिया गया। इसी परीक्षा के प्रश्नपत्रों के 1 हजार रुपए में बेचा जा रहा था। इस मामले में वाराणसी और बिजनौर से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। टीईटी परीक्षा में मुन्नाभाईयों की संख्या इतनी ज्यादा थी कि एसटीएफ की टीम की संख्या कम पड़ गई।

लेखपाल भाभी ने ननद की ली जगह

लेखपाल भाभी ने ननद की ली जगह

श्रावस्ती की घटना की अगर बात करें तो यहां जनता इंटर कॉलेज में अपनी ननद के स्थान पर परीक्षा दे रही थी। परीक्षा देने वाली महिला खुद लेखपाल थी। महिला लेखपाल को परीक्षा देते हुए तहसीलदार ने पहचान लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने महिला लेखपाल को जेल भेज दिया है। इसी कड़ी में बुलंदशहर से सॉल्वर गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है व तीन अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

अधिकारी की गाड़ी से पहुंचा सॉल्वर

अधिकारी की गाड़ी से पहुंचा सॉल्वर

कुशीनगर में बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया। यहां एक सॉल्वर बीएसए की गाड़ी से परीक्षा देने पहुंचा। इस मामले का खुलासा होते ही सॉल्वर मौके से फरार हो गया। हालांकि बीएसएस के चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। डीएम ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

पकड़ी गई शिक्षामित्र

पकड़ी गई शिक्षामित्र

भदोही जिले में एक शिक्षामित्र को इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के साथ गिरफ्तार किया गया। उसने बताया कि परीक्षा का सौदा ढाई लाख में तय हुआ था। जौनपुर में एक युवक के जगह दूसरी युवक पकड़ा गया। वहीं इलाहाबाद में भी सॉल्वर गिरोह के तीन सदस्या गिरफ्तार किए गए। इनके पास से 60 हजार कैश, पांच इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस व अन्य कई समान बरामद किए गए।

लाखों का था ठेका

लाखों का था ठेका

एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह ने कहा कि मुरादाबाद में परीक्षा शुरू होने से पहले ही एक गिरोह के लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया जो पेपर सॉल्व करने आए थे। पेपर सॉल्व करवाने के लिए 10 लाख रुपए का ठेका दिया गया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
solver group people catch by olice and stf team in many district allahabad
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X