40 लाख की शादी के बावजूद दिल में थी कार ना मिलने की कसक, बैंक मैनेजर ने उतारा मौत के घाट

Written By: Prashant
Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शहाजहांपुर में दहेज लोभियों ने फिर से एक बेटी को मौत के घाट उतार दिया। दहेज में डस्टर गाड़ी की मांग पूरी ना होने और और बेटी पैदा होने से नाराज ससुराल वालों ने मिला को पीट-पीटकर मार डाला। महिला को अपने साथ होने वाली अनहोनी का पहले से अंदाजा था इसलिए उसने अपनी पीड़ा एक पन्ने में बयां किया था। पत्र में उसने लिखा था कि अगर उनके साथ कुछ भी होता है तो उसकी पूरी जिम्मेदारी ससुराल वालों की होगी। बता दें कि महिला की शादी 22 महीने पहले ही हुई थी और उसकी 6 महीने की एक बेटी भी है। वारदात को अंजाम देने के बाद से ससुराली फरार हैं।

shahjahanpur husband killed his wife for getting enough dowry

मिली जानकारी के मुताबिक मामला शाहजहांपुर का है जहां मिताली नाम की एक लड़की की शादी बैंक ऑफ बड़ौदा मेंम मैनेजर से हुई थी। शादी में मिताली के पिता ने अच्छा खासा इंतजाम किया था। शादी में तरीबन 40 लाख रुपये खर्च किए गए थे साथ ही 15 लाख की कार भी दी थी लेकिन लालची ससुरालवाले इससे संतुष्ट नहीं थे। वे शादी के बाद भी डस्टर गाड़ी की मांग करते रहे। दिन महीने बीात गए और मिताली अपने परिवार वालों से इसकी शिकायत करती रही। लेकिन परिवार वाले घर ना टूटने के डर से उसे ससुराल वापस भेजते रहे। इसी बीच जब मिताली को एक बेटी हुई तो घरवालों का गुस्सा और भी चरम पर पहुंच गया और वे उसे पहले से ज्यादा टॉर्चर करने लगे। इसी के चलते एक दिन नाराज घर वालों ने मिताली की पीट-पीट पर हत्या कर दी। सीओ सिटी सुमित शुक्ला ने बताया कि महिला की मौत हुई है। परिजन हत्या का आरोप लगा रहे हैं। मामले मे तहरीर मिल गई है। मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
shahjahanpur husband killed his wife for getting enough dowry

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.