उत्तर प्रदेश: इलाहाबाद मिलिट्री हॉस्पिटल से एम्बुलेंस लेकर भागा फौजी, फिल्मी स्टाइल में कानपुर में गिरफ्तार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। कैंट इलाके में मिलिट्री हॉस्पिटल से शनिवार सुबह सेना का एक जवान एंबुलेंस लेकर भाग निकला। अस्पताल से भागते समय उसने सुरक्षा गार्ड को कुचलने की भी कोशिश की। घटना के फौरन बाद मिलिट्री इंटेलिजेंस और स्थानीय यूनिट सक्रिय हुई। सिविल पुलिस से मदद मांगी गई और जिले की बाहरी सीमा व हाइवे पर तत्काल बैरियर लगाकर पुलिस भी हरकत में आई। पुलिस ने एंबुलेंस लेकर भाग रहे फौजी का पीछा किया और कानपुर के सचेंडी में रास्ता ब्लॉक कर घेराबंदी करते हुए दबोच लिया गया। थोडी देर में इलाहाबाद छावनी के कर्नल एम के अमर सिंह भी अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। सचेंडी थाने में फौजी से कई घंटे पूछताछ हुई, लेकिन वह एंबुलेंस जीप लेकर क्यों भागा था, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है। फौजी की पहचान सर्वजीत चौधरी के रूप में हुई है, जिसकी पोस्टिंग लद्दाख में थी। इलाहाबाद छावनी के अधिकारियों ने जब लद्दाख में सर्वजीत की यूनिट से संपर्क किया तो पता चला वह अपनी पोस्ट से अनाधिकृत रूप से गायब हो गया था। पूछताछ में पता चला है कि वह बैंक का कामकाज निपटाने के लिए इलाहाबाद आया हुआ था। फिलहाल मिलिट्री इंटेलिजेंस के साथ, आईबी, एलआइयू समेत अन्य खुफिया एजेंसी को इनपुट जारी कर दिया गया है। पडताल जारी है और आतंकी घटनाओं से भी लिंक तलाशे जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश: इलाहाबाद मिलिट्री हॉस्पिटल से एम्बुलेंस लेकर भागा फौजी, फिल्मी स्टाइल में कानपुर में गिरफ्तार

इलाहाबाद में रह चुका है तैनात
इलाहाबाद छावनी के कर्नल एम के अमर सिंह ने बताया कि सर्वजीत चौधरी मूल रूप से राजस्थान का रहने वाला है। एक साल पहले उसकी पोस्टिंग इलाहाबाद में ही थी। वह मिलिट्री हॉस्पिटल में बतौर नर्सिंग असिस्टेंट तैनात था। यहां से उसका ट्रांसफर जम्मू-कश्मीर में हो गया था। जम्मू-कश्मीर में सर्वजीत की पोस्ट के साथियों ने इसके बैंक संबंधी काम की कुछ जानकारी दी है।सर्वजीत के विरुद्ध मिलिट्री नियमों के तहत जांच व कार्रवाई की जाएगी।

फिल्मी स्टाइल में भागा और पकड़ा गया
जवान के मिलिट्री हॉस्पिटल से एम्बुलेंस लेकर भागने और पकड़े जाने की पूरी घटना फिल्म के किसी दिलचस्प सीन सरीखी लगती है। सुरक्षा गार्ड को कुचलने की कोशिश करते हुए भागना, मिलिट्री अफसरों का पीछा करना, शहर की नाकाबंदी, बैरियर को तोड़ते हुए भागते रहना और फिर एक पुलिस वाले का हीरो बनकर पीछा करना। अंत में सड़क पर आड़ी-तिरछी तरह से गाडियां लगाकर सड़क को ब्लॉक करना और पुलिस द्वारा घेर कर भगौड़े को पकड़ लेना, है न पूरा फिल्मी सीन। लेकिन यह दृश्य हकीकत में आज हुआ।

कुचल जाता संतरी
कर्नल एम के अमर सिंह ने बताया कि सैनिक सर्वजीत चौधरी सुबह सेना के हॉस्पिटल पहुंचा था। वह हमेशा ही छुट्टी लेकर यहां आता था और स्टाफ से परिचित था तो उससे ज्यादा रोक टोक नहीं होती थी। इसी का फायदा उठाकर वह एंबुलेंस तक पहुंचा और फिर गाड़ी स्टार्ट कर भागने लगा। गेट पर संतरी ने इतनी सुबह बिना सूचना एंबुलेंस को गुजरते देखा तो गाड़ी रोकने के लिए हाथ का इशारा करने लगा। अचानक सर्वजीत ने एंबुलेंस की स्पीड बढ़ा दी और उसने संतरी को कुचलने की कोशिश की। संतरी ने चपलता दिखाते हुए अपनी जान बचाई और गाड़ी चला रहे सर्वजीत को पहचान लिया। कंट्रोल रूम में सूचना संतरी ने भेजी तो तत्काल सिविल पुलिस को जानकारी दी गई। मिलिट्री और पुलिस ने एंबुलेंस का पीछा शुरू किया। पुलिस ने कौशांबी और फतेहपुर पुलिस को वायरलेस पर अलर्ट जारी किया। आनन-फानन में सर्वजीत के विरुद्ध कैंट थाने में कर्नल एम के अमर सिंह ने मुकदमा दर्ज कराया और आधिकारिक तौर पर कानूनी कार्रवाई भी शुरू हो गई ।

डायल 100 के जवान ने दिखाई दिलेरी
एंबुलेंस फुल स्पीड में भागती हुई इलाहाबाद की सीमा से बाहर निकल गई। इससे पहले कि कौशांबी पुलिस हरकत में आती सर्वजीत फतेहपुर जिले की सीमा में दाखिल हो गया। औंग थाने से पहले डायल 100 की पिकेट तैनात थी। उसके पास से फुल स्पीड में एंबुलेंस गुजरी तो पिकेट पर तैनात सिपाही धर्मेंद्र ने वायरलेस पर सूचना प्रसारित की। उसने बताया कि मिलिट्री की एक एंबुलेंस अभी अभी बहुत तेज रफ्तार से गुजरी है और कानपुर की ओर बढ़ रही है। सिपाही ने यह भी बताया कि चालक ने फौज की वर्दी भी नहीं पहन रखी है। सिपाही सूचना देकर एंबुलेंस का पीछा करने लगा और लगातार सूचना प्रसारित करता रहा।

हाइवे बंद कर पकड़ा गया भगौडा
देखते ही देखते हाइवे पर एंबुलेंस हवा से बात करती हुई औंग थाना बैरियर, फिर कानपुर सीमा में महराजपुर थाने का बैरियर और फिर रूमा चैकी का बैरियर तोड़ती हुई चकेरी इलाके में पहुंची। अगले थाने सचेंडी की पुलिस ने अन्य थानों की तरह सुस्ती न दिखाते हुए तत्काल चकरपुर मंडी में हाइवे पर आड़े-तिरछे वाहन लगाकर रास्ता ब्लॉक कर दिया। एंबुलेंस यहां पहुंचते ही फंस गई, पुलिस ने घेराबंदी कर सर्वजीत को दबोच लिया। सर्वजीत को सचेंडी थाने ले जाया गया। पीछा करते हुए इलाहा बाद छावनी के मिलिट्री अफसर भी मौके पर पहुंच गए। सर्वजीत से लगातार पूछताछ की जा रही है। फिलहाल इस मामले में अभी सेना व पुलिस मीडिया से कोई खुलासे जैसी बातचीत नहीं कर रही है और मिलिट्री पुलिस पूरी जांच को अपने अनुसार हैंडल कर रही है। मामले में थानाध्यक्ष कैंट ने बताया कि एंबुलेंस लेकर भागने का मुकदमा यहां दर्ज हुआ है। युवक फौज में ही है, उसे कानपुर के पास पकड़ा गया है। जांच पड़ताल की जा रही है। अभी सब कुछ बता पाना संभव नहीं है।

ये भी पढ़ें- साढ़े छह लाख में खरीदी दुनिया की सबसे महंगी शराब की एक बोतल, जांच हुई तो निकली नकली

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
service man run away from allahabad military hospital by ambulance, arrested in kanpur

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.