VIDEO: धीमे से कुछ कह कर गया दूल्‍हा और फिर लौट कर नहीं आया, लहंगे में बैठी इंतजार करती रही दुल्‍हन

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इटावा। यूपी के इटावा जिले में मंगलवार को मुख्‍यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के प्रत्‍येक ब्‍लॉक से गरीब परिवार के लोगों ने भाग लिया। 51 जोड़ों ने सात फेरे लिए, लेकिन इस भव्य कार्यक्रम में उस समय ग्रहण लग गया जब शादी करने आये एक दूल्‍हे के परिजन दहेज की मांग न पूरी होने पर बहाने से उसे मंडप से उठा के गए। दूल्‍हे ने दुल्‍हन की कान में टॉयलेट जाने की बात कह मंडप से बाहर आया और फिर वापस नहीं लौटा। जिले के प्रभारी मंत्री स्वतंत्र देव सिंह के अलावा डीएम भी वहां मौजूद थे लेकिन उनके पास इस सवाल का जवाब नहीं था कि सीएम के सामूहिक शादी समारोह में कुंवारी रह गयी गरीब बेटी की शादी कैसे होगी, और किससे होगी? विस्‍तार से जानिए पूरा मामला

दुल्‍हन बनी स्‍नेहलता के सपने एक पल में बिखर गए

दुल्‍हन बनी स्‍नेहलता के सपने एक पल में बिखर गए

जानकारी के मुताबिक जिले के ब्लॉक बसरेहर क्षेत्र के रहने वाली स्‍नेहलता की शादी मैनपुरी के रुकमपाल सिंह से तय हुई थी। सभी जोड़ों के साथ दूल्हा रुकमपाल भी अपने परिजनों के साथ पहुंचा। वैवाहिक कार्यक्रम के लिए मंडप पर सभी जोड़े बैठ गए। तभी कार्यक्रम के शुरू होने के चंद मिनट पहले ही दूल्हे रुकमपाल ने दुल्हन के कान में टॉयलेट जाने की बात कही और उठकर चला गया। दुल्हन लाल जोड़े में मंडप पर बैठी इंतजार करती रही, लेकिन 30 मिनट बीत जाने के बाद भी वो वापस नहीं लौटा।

दहेज में मांग रहे थे 4 लाख रुपए नकद

दहेज में मांग रहे थे 4 लाख रुपए नकद

इसपर दूल्हे को खोजने के बहाने उसके परिजन भी निकल गए। काफी तलाश के बाद भी वर पक्ष का पता नहीं चला। स्‍नेहलता के पिता ने बताया कि रुकमपाल के चाचा संतोष 4 लाख रुपये दहेज की मांग रहे थे । जिसको लेकर वो यहां से बहाना बनाकर भाग गए। डीएम ने मामले की जांच मुख्य विकास अधिकारी पीके श्रीवास्तव से कराने को कहा है।

एक मंडप में हिंदू-मुस्‍लिम की शादी

एक मंडप में हिंदू-मुस्‍लिम की शादी

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 51 जोड़ो ने सामूहिक फेरे लिए। इस कार्यक्रम में मुस्लिम परिवार के लोग भी थे, जिन्होंने अपना निकाह पढ़वाया और सरकार के इस कार्यक्रम से बहुत खुश दिखे। शादी कराने वाले काजी का कहना था, कि ये बहुत ही अच्छा काम है । एक ही पंडाल में हिन्दू-मुस्लिम एक साथ शादी कर रहे हैं। सरकार इस काम को और विस्तार दे। जिले के प्रभारी मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने भी सभी जोड़ो को उपहार देकर उन्हें आशीर्वाद दिया।

देखें VIDEO

VIDEO में देखिए क्‍या कहना है स्‍नेहलता के पिता और सीएम योगी के मंत्री का।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hours before his wedding, a groom allegedly went missing from a mass marriage venue in Etawah district, plunging the bride's family into gloom. The mass marriage ceremony was also attended by UPSRTC minister (independent charge) Swatantra Deo Singh.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.