भाजपा में रहा युवक बेचना चाहता है पकौड़ा, नहीं मिल रहा पीएम मुद्रा योजना के तहत लोन

Subscribe to Oneindia Hindi

अमेठी। देशभर में पकौड़े पर गरमाई राजनीति की बयार अमेठी जिले में भी पहुंच गई है। स्मृति ईरानी के सपोर्टर रहे एक युवक ने पकौड़ा रोजगार के लिये बैंकों से लोन दिलाने के लिये कांग्रेस केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा को लेटर लिखा है जिसमें युवक ने प्रधामनंत्री नरेंद्र मोदी से प्रंधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत बैंकों से लोन दिलाने की अपील की है। अब ये लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

युवक रह चुका है भाजपा कार्यकर्ता

युवक रह चुका है भाजपा कार्यकर्ता

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी एवं प्रभारी मंत्री मोहसिन रज़ा को सम्बोधित लेटर अश्विन मिश्र नाम के युवक ने लिखा है। उक्त लेटर में उसने लिखा है कि मैं भाजपा सदस्य सं. 1008329737 से सदस्य हूं। साथ ही साथ मैने भाजपा आईटी विभाग अमेठी के ज़िले टीम का सदस्य और अमेठी विधानसभा के सोशल मीडिया के प्रमुख पद पर कार्यरत था। 27 फ़रवरी 2017 को लिखित रूप में पत्र भेजकर इन सभी से त्यागपत्र दे दिया।

स्म़ति ईरानी को लिखा लेटर

स्म़ति ईरानी को लिखा लेटर

अश्विन द्वारा लिखे गये लेटर में दर्शाया गया है कि मैंने भाजपा में काम किया इसलिये सविनय निवेदन है कि वर्तमान में तेजी से बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए मेरे माता-पिता मेरे भविष्य को लेकर चिंतन करते रहते हैं। उनकी उम्र भी लगभग 55 वर्ष है। एक मात्र मैं भी उनके सहारे की लाठी हूं। अमेठी नाम मात्र का वीवीआईपी क्षेत्र है क्योंकि न ही यहा उच्च स्तर की शिक्षा व्यवस्था है न ही कोई अच्छा रोजगार जिससे पढ़ लिखकर यहीं रोजगार करके उनके बुढ़ापे का सहारा बन सकूं।

बैंकों का लगाया चक्कर

बैंकों का लगाया चक्कर

लेटर मे लिखा है कि कुछ दिन पहले माननीय प्रधानमंत्री जी का एक निजी चैनल पर इंटरव्यू देखा। उनकी कुछ बातें मुझे बहुत अच्छी लगी और रोज़गार तलाश को विराम लगा दिया। मैं उनका हृदय से साधुवाद धन्यवाद आभार प्रकट करना चाहता हूं। प्रधानमंत्री जी आपने इतना अच्छा सुझाव दिया किंतु मेरे पास इतनी पर्याप्त धनराशि नहीं है कि एक अच्छी पकौड़े की स्टाल लगाकर अपने घर के साथ अन्य लोगों को अमेठी में रोज़गार देकर उनके परिवार के लिये कुछ मदद कर सकूं। किंतु पिछले कई दिनों से अमेठी के विभिन्न बैंकों के चक्कर लगाते लगाते थक गया वे साफतौर पर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन देने से मना कर देते हैं।

'पीएम मुद्रा योजना के तहत नहीं मिला लोन'

'पीएम मुद्रा योजना के तहत नहीं मिला लोन'

लेटर के अनुसार 'प्रधानमंत्री जी और कई मंत्री बोलते हैं कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 10 करोड़ परिवार को सहायता मिली है। उनको व्यवसाय हेतु ऋण मिला है किंतु हमारे साथ-साथ अमेठी लोकसभा क्षेत्र के अन्य बेरोजगार युवाओं जो रोज़गार शुरू करने के प्रयास में ऋण हेतु दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। हम मानने को कतई तैयार नहीं की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। अतः आप दोनों के माध्यम से प्रधानमंत्री जी से अपील करना चाहता हूं कि मुझे इन अमेठी की बैंकों से पकौड़ा रोजगार हेतु ऋण दिलाने की कृपा करें। आपकी अति कृपा होगी।

Read Also: पीएम मोदी से सीख लेकर पत्नी ने कहा पकौड़ा बेचो, बेरोजगार पति ने मार डाला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former BJP worker want to sell pakora but failed to get loan in PM scheme in Amethi.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

X