PICs: वाराणसी में कांग्रेस ने मेयर पद पर उतारी फैशन डिजाइनिंग वाली अपनी खास प्रत्याशी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। निकाय चुनाव में कांग्रेस ने अपने पत्ते खोलते हुए सूची जारी कर नौ जिलों के महापौर उम्मीदवारों के नामों का एलान कर दिया है। इन नौ उम्मीदवारों में वाराणसी नगर निगम के लिए कांग्रेस ने जिसे अपना प्रत्याशी घोषित किया है, ये वो परिवार है जिनका कांग्रेस ही नहीं बल्कि गांधी परिवार से कभी सीधा सरोकार हुआ करता था। दरअसल पूर्व राज्यसभा के उपसभापति और कट्टर कांग्रेसी कहे जाने वाले स्वर्गीय श्याम लाल यादव की छोटी बहू शालिनी यादव के नाम पर कांग्रेस ने अपनी मुहर लगाते हुए उन्हें महापौर का उम्मीदवार घोषित किया है। शालिनी का वैसे तो कुछ खास राजनीतिक सफर नहीं रहा है पर उनके पति अरुण यादव जरूर पार्टी में सीधी पकड़ रखते है। दरअसल इस बार के निकाय चुनाव में आयोग ने वाराणसी सिटी की महापौर पिछड़ी एवं महिला प्रत्याशी के लिए सुरक्षित की है। जिसके कारण उम्मीदवारों के घोषणा में पार्टी को कई कदम सोच समझने के बाद उठाना पड़ रहा है।

Congress disclose her Mayor candidate from Varanasi City
Congress disclose her Mayor candidate from Varanasi City

नए ख्यालों की है इस बार की उम्मीदवार

कांग्रेस पार्टी के सिम्बल पर महापौर जैसे महत्वपूर्ण पद पर अपना दावा करने वाली शालिनी यादव 7 नवम्बर को अपना नामांकन दाखिल करेंगी। वहीं यूपी के गाजीपुर की रहने वाली शालिनी की शादी स्व. श्यामलाल यादव के छोटे सुपुत्र अरुण यादव से हुई है। शालिनी इंग्लिश से बीए ऑनर्स करने के साथ ही लखनऊ से फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा कर चुकी हैं। शालिनी खुद के कसक संध्या कालीन अखबार से भी जुड़ी हुई हैं। वहीं सूत्रों की माने तो कांग्रेस और गांधी परिवार से अच्छे रिश्तों के कारण ही उन्हें मेयर के उम्मीदवार के लिए पार्टी ने चुना है।

Congress disclose her Mayor candidate from Varanasi City
Congress disclose her Mayor candidate from Varanasi City

पार्षदों की पहली सूची जारी होने पर हो चुका है घमासान

वहीं दूसरी ओर बनारस नगर निगम के 90 वॉर्डों के लिए चुने जाने वाले पार्षदों के नामों की घोषणा के लिए सीधे पार्टी हाईकमान के निर्देश का इंतजार है। जबकि नामांकन में महज 3 दिनों का ही समय शेष बचा हुआ है। यही नहीं इसी कारण प्रचार-प्रसार भी रुके हुए हैं कि आखिर किन वॉर्डों में उम्मीदवार कौन होगा? क्योंकि पहली सूची में जिन 37 पार्षद प्रत्याशियों के नामों की घोषणा हुई थी, उसके बाद घमासान शुरू हो गया। पार्टी ने पुराने कार्यकर्ताओं ने रामपुरा वॉर्ड से अपने 50 समर्थकों के प्राथमिकी सदस्यता से इस्तीफा दे दिया तो बागहाड़ा के प्रत्याशी ने सपा का सदस्य बताते हुए पार्टी की किरकिरी कर दी। जिसके बाद कड़े रुख अख्तियार कर यहां से लोगों की रिपोर्ट मांगी गई है लेकिन नामों का फैसला पार्टी हाईकमान को करना है।

Read more: बसपा ने अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के खास बच्चा पासी को बनाया पार्षद प्रत्याशी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress disclose her Mayor candidate from Varanasi City
Please Wait while comments are loading...