5 महीने में बहू को उतारा मौत के घाट, पेशाब पिलाकर जिंदा जलाया

Subscribe to Oneindia Hindi

बहराइच। उत्तर प्रदेश में बहराइच के रिसिया इलाके में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि एक विवाहिता को जिन्दा सिर्फ इसलिए जला दिया क्योंकि उसके मायके वाले उसे शादी में दहेज नहीं दे पाए थे। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक विवाहिता दम तोड़ने से पहले अपना बयान मजिस्ट्रेट को दे चुकी थी।

Read Also: महिला का मर्डर बना मिस्ट्री, फोन कॉल खोलेगा हत्यारे का राज!

ससुरालियों पर दहेज हत्या के आरोप

ससुरालियों पर दहेज हत्या के आरोप

नानपारा कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत परसा अगैय्या निवासी बच्छराम ने अपनी बेटी प्रीति (18) का विवाह पांच माह पूर्व रिसिया थाना इलाके के कमलाजोत गांव के बच्छराज के साथ किया था। शुक्रवार को प्रीति अपने ससुराल में संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गई। उसे बहराइच के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन प्रीति इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतका के पिता बच्छराम का आरोप है कि दो दिन पहले ही मायके से प्रीति की विदाई हुई थी। वह ससुराल आना नहीं चाहती थी।

छोटी-छोटी बातों पर की जाती थी पिटाई

छोटी-छोटी बातों पर की जाती थी पिटाई

कारण यह था कि उसे सोने की चेन व बाइक की डिमांड को लेकर अक्सर प्रताड़ित किया जाता था। छोटी-छोटी बातों पर पिटाई की जाती थी। पिता का कहना है कि उनकी बेटी पांच माह में चार बार मायके आ चुकी थी। उन्होंने कहा कि गुरुवार रात बेटी को मारा-पीटा गया। यही नहीं फिर उसे पेशाब पिलाया गया। इसके बाद भी जब ससुरालीजनों का पेट नहीं भरा तो बेटी को जिंदा जला दिया गया। बच्छराम का दावा है कि मरने से पहले बेटी प्रीति ने ये बातें बताई थी और कलमबंद बयान भी मजिस्ट्रेट को दिया है।

आरोपी पति हुआ फरार

आरोपी पति हुआ फरार

पुलिस ने पंचनामा कर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। रिसिया थानाध्यक्ष आरपी यादव ने बताया कि मृतका के पिता बच्छराम की तहरीर पर आरोपी पति बच्छराज के खिलाफ हत्या समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू की गई है। आरोपी पति फरार है, उसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A woman killed by in laws in Bahraich, Uttar Pradesh.
Please Wait while comments are loading...