महिला टीचर और चपरासी को आपत्तिजनक हालत में देखने पर छात्रा को मिली सजा!

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

अमेठी। उत्तर प्रदेश के अमेठी में स्कूल टीचर और चपरासी आपत्तिजनक हालत में थे, इन्हें इस आलम में स्कूल की ही एक छात्रा ने देख लिया। छात्रा का आरोप है कि इसके बाद उसके खिलाफ साजिश की गई और स्कूल मैनेजर ने एडमिट कार्ड देने से इनकार करते हुए रुपए की डिमांड कर डाली। ऐसे में क्लास 10 की छात्रा का पेपर छूट गया। इस बात से आहत छात्रा ने मां का सहारा लिया और डीएम के पास न्याय की गुहार लगाई है।

जामो ब्लॉक के जनता इंटर कॉलेज का मामला

जामो ब्लॉक के जनता इंटर कॉलेज का मामला

जानकारी के अनुसार, जामो ब्लॉक अंतर्गत अहद एरिया में जनता इंटर कॉलेज स्थित है। 10 दिन पूर्व पास के गांव की दीप शिखा तिवारी कॉलेज पहुंची, जहां कॉलेज के एक कमरे में स्कूल की एक टीचर और चपरासी आपत्तिजनक स्थिति में थे और इसकी निगाह दोनों पर पड़ गई। दो दिन बाद जब स्टूडेंट दीप शिखा अपना एडमिट कार्ड लेने कॉलेज पहुंची तो उसे एडमिट कार्ड नहीं दिया गया, कहा गया कि तुम्हारी फीस नहीं जमा है तुम 4 हजार रुपये और दो तभी तुम्हें एडमिट कार्ड मिलेगा।

बेटी ने बताई सच्चाई तो चौंक गई मां

बेटी ने बताई सच्चाई तो चौंक गई मां

स्टूडेंट की मानें तो उसकी पूरी फीस पहले ही जमा हो चुकी है। उधर एडमिट कार्ड न मिलने से आहत स्टूडेंट घर वापस तो पहुंची लेकिन स्कूल प्रशासन के रवैये से आहत होकर उसकी तबियत अचानक खराब हो गई। बेटी की बिगड़ती हालात देख मां ने उससे पूरी जानकारी ली। बेटी ने मां को जो बताया उसे सुनकर मां भी अवाक रह गई। बेटी से सच्चाई जानने के बाद मां अपनी बेटी को लेकर डीएम कार्यालय पहुंची जहां डीएम शकुंतला गौतम से मिलकर उन्होंने पूरा मामला उनको बताया।

'मेरा एक साल हुआ बर्बाद'

'मेरा एक साल हुआ बर्बाद'

डीएम ने पीड़िता की गम्भीर हालत देख तत्काल उसे हॉस्पिटल भिजवाया जहां उसका ट्रीटमेंट चल रहा है। उधर आपत्तिजनक हालत में मिली टीचर और चपरासी स्कूल से फरार हैं। इस मामले में स्टूडेंट ने कहा है कि मुझे एडमिट कार्ड नहीं मिला जिससे मेरा एक साल बर्बाद हो गया। अगर मैडम के ऊपर कोई कार्रवाई नहीं होगी तो मैं आत्महत्या कर लूंगी, मुझे इंसाफ चाहिए।

डीएम ने दिये जांच के आदेश

डीएम ने दिये जांच के आदेश

फ़िलहाल इस मामले में डीएम शकुंतला गौतम से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि मामला गंभीर है और मेरे संज्ञान में है। पीड़ित स्टूडेंट अपनी मां के साथ आई थी और उसकी तबियत भी ठीक नहीं थी। इलाज के लिए उसे जिला अस्पताल भेजा गया है। मामले की जांच डीआईओएस को सौंपी गई। रिपोर्ट आने के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Read Also: यूपी: प्रिंसिपल बच्चों को पढ़ा रही थी तभी तमंचा लेकर क्लास में घुसे बदमाश ने लूटा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A student punished for seeing teacher and peon together in Amethi.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.