• search
उज्जैन न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

उज्जैन : क्यूआर कोड स्कैन करते ही सुनने मिलेगी चित्रों की कथा, कुछ ऐसी है महाकाल लोक की कहानी

Google Oneindia News

उज्जैन, 6 अक्टूबर : प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन स्थित बाबा महाकालेश्वर मंदिर में बनाए गए महाकाल कॉरिडोर के लोकार्पण की तैयारियां पूरी हो गई हैं, जहां आगामी 11 अक्टूबर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाकाल कोरिडोर का लोकार्पण करेंगे। महाकाल लोक तक पहुंचने के लिये चार भुजाओं वाले महाकाल ओवर ब्रिज से होकर त्रिवेणी संग्रहालय जाना होता है। संग्रहालय के ठीक सामने लगभग 450 वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था की गई है। पार्किंग शेड के ऊपर सोलर पैनल लगाये गये हैं।

क्यूआर कोड स्कैन करते ही मिलेगी जानकारी

क्यूआर कोड स्कैन करते ही मिलेगी जानकारी

महाकाल लोक में बनी प्रतिमाएं, फव्वारे और आसपास की हरियाली आकर्षित करती है। कोबल्ड स्टोन की रोड क्रॉसिंग के जरिये पदयात्रियों की कनेक्टिविटी विकसित की गई है। पैदल चलते हुए शिव, देवी और श्रीकृष्ण से जुड़ी प्रतिमाएं नजर आती हैं। चित्रों के नीचे सम्बन्धित कथाएं भी अंकित की गई हैं। क्यूआर कोर्ड भी बनाये गये हैं, जिन्हें मोबाइल से स्केन कर कथा सुनी जा सकती है। इनमें शिव बारात का आकर्षक चित्रण किया गया है। एक शिल्प में कैलाश पर्वत को रावण ने उठा रखा है। कैलाश पर शिव परिवार भी विराजित है। एक शिल्प में देवी की नृत्य मुद्रा बनाई गई है।

लगाए गए हैं सीसीटीवी कैमरे

लगाए गए हैं सीसीटीवी कैमरे

पूरे कॉरिडोर में देश की सबसे लम्बी भित्ति चित्र वाली दीवार है। इस दीवार पर पत्थरों पर शिव कथाएं उकेरी गई हैं। महाकाल लोक दो हिस्सों में बना है। एक तरफ पैदल पथ और दूसरी तरफ ईकार्ट पथ। बच्चे, वृद्ध, दिव्यांग और महिलाओं के लिये ईकार्ट की व्यवस्था नि:शुल्क की गई है। दोनों पथ के बीच 108 शिवस्तंभ शिव की विभिन्न मुद्राओं सहित निर्मित हैं, जो अलग ही छटा बिखेर रहे हैं। यह स्तंभ साधारण नहीं है, हर स्तंभ पर शिव की नृत्य मुद्रा अंकित है। इन्हीं पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गये हैं।

शहर से लेकर गांवों तक होगा प्रसारण

शहर से लेकर गांवों तक होगा प्रसारण

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, लोकार्पण समारोह की आवश्यक तैयारियाँ की जा रही हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 अक्टूबर की शाम 6 बजे श्री महाकाल लोक का लोकार्पण करेंगे। यह कार्यक्रम पूरे प्रदेश में मनाया जाना है। इसके लिए जिलों में ऐसा वातावरण बनाया जाएँ, जिससे अधिक से अधिक लोग कार्यक्रम देख सकें। ग्राम के किसी एक मंदिर में सभी ग्रामवासी एकत्र होकर समारोह के सहभागी बनेंगे। शहरी क्षेत्र में वार्डों में भी प्रमुख मंदिरों में कार्यक्रम प्रसारण की व्यवस्था करने को कहा गया है।

ये भी पढ़े- उज्जैन : दशहरे पर महाकाल शरण में CM Shivraj, पत्नी साधना सिंह के साथ किया पूजनये भी पढ़े- उज्जैन : दशहरे पर महाकाल शरण में CM Shivraj, पत्नी साधना सिंह के साथ किया पूजन

Comments
English summary
Beautiful pictures made in Mahakal Lok, Ujjain, Madhya Pradesh
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X