• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'समस्या आप लोगों में है, कोहली में नहीं', विराट को बॉलिंग करने से तो आज भी सब डरते हैं- चहल

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 20 अगस्त: विराट कोहली की फॉर्म के बारे में जब हम बात करते हैं तो दो तरह की चीजें सामने आती है। एक फैंस है और पूर्व क्रिकेटर है जो मानते हैं कि विराट वाकई में एक खराब दौर से गुजर रहे हैं और दूसरी तरफ विराट के साथ खेलने वाले मौजूदा प्लेयर हैं जो मानते हैं कि ऐसी कोई समस्या ही नहीं है। चाहे टीम के कोच हों या बीसीसीआई के अध्यक्ष, या फिर खुद कप्तान, किसी ने भी विराट कोहली की फॉर्म पर चिंता प्रकट नहीं की है।

चहल ने विराट की फॉर्म को खराब मानने से इंकार किया

चहल ने विराट की फॉर्म को खराब मानने से इंकार किया

हालांकि विराट क्रिकेट से एक ब्रेक लेकर एशिया कप में वापसी कर रहे हैं जहां पर T20 वर्ल्ड कप में सेट होने का उनके पास अंतिम मौका होना चाहिए क्योंकि एशिया कप फाइनल के बाद ही भारतीय चयनकर्ता 15 सदस्यीय टीम का चयन करेंगे। इसी बीच कोहली के साथ खेलने वाले एक और खिलाड़ी यजुवेंद्र चहल ने भी विराट की फॉर्म को खराब मानने से साफ इंकार कर दिया है। चहल का कहना है कि विराट कोहली लगातार बहुत अच्छे योगदान कर रहे हैं लेकिन दिक्कत तब आती है जब आप केवल उनके शतक पर फोकस करते हैं।

'समस्या आप लोगों में है, कोहली में नहीं'

'समस्या आप लोगों में है, कोहली में नहीं'

चहल लंबे समय तक विराट कोहली के साथ आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम का भी हिस्सा ले चुके हैं, वे बाद में राजस्थान रॉयल्स में चले गए थे। युजवेंद्र ने स्पोर्ट्स यारी के साथ बात करते हुए यह बात कही। ndtv.com के अनुसार चहल ने बताया कि जो लोग कोहली में समस्या देखते हैं उनका फोकस केवल विराट कोहली के शतकों पर है और वे भूल जाते हैं कि उन्होंने इस समय कितनी अहम पारियां भी खेली है। चहल कहते हैं अगर किसी का T20 इंटरनेशनल क्रिकेट में औसत 50 के ऊपर है, अगर कोई दो टी-20 वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द टूर्नामेंट रह चुका है, अगर किसी के पास 70 इंटरनेशनल शतक है, तो वह खिलाड़ी कुछ तो है।

 कोई भी गेंदबाज उनको गेंदबाजी नहीं करना चाहता

कोई भी गेंदबाज उनको गेंदबाजी नहीं करना चाहता

"आप तीनों फॉर्मेट में उनका औसत देख लीजिए समस्या तब आती है जब हम केवल उनके शतक के बारे में सोचते हैं। हम इस बारे में बात नहीं करना चाहते कि वह 60-70 रनों का भी योगदान कर रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि विराट कोहली ने अपने लिए बहुत ऊंचे मानक सेट किए हैं।"

चहल यह भी कहते हैं कि कोई भी गेंदबाज विराट कोहली के जमने के बाद उनको गेंदबाजी नहीं करना चाहता क्योंकि उसको पता है कि बदले में कुछ नहीं मिलने वाला है। चहल कहते हैं कि अगर विराट कोहली 15 रन बनाकर क्रीज पर हैं तो मैं आपको बताने वाला हूं कि कोई भी गेंदबाज उनको गेंदबाजी नहीं करना चाहता है।

कोहली और रोहित कप्तानी में कैसे हैं

कोहली और रोहित कप्तानी में कैसे हैं

32 साल के चहल ने विराट कोहली और रोहित शर्मा की कप्तानी में खेलने के बारे में बात करते हुए कहा कि उनका रोल तो विभिन्न कप्तानों के समय एक सा रहता है।

चहल ने कहा, अलग-अलग कप्तानों के साथ खेलते हुए मेरा काम हमेशा एक जैसा रहता है। वह मुझे हमेशा विकेट लेने वाले गेंदबाज के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। तो मेरे लिए सभी एक जैसे हैं। मुझे गेंदबाज के तौर पर छूट दी जाती है। वह हमेशा इस बात को अहमियत देते हैं कि मैं क्या करना चाहता हूं। कभी-कभी रोहित भैया मुझे बताते हैं कि हालात इस तरह के हैं, आप क्या कर सकते हो ? आप जानते ही हैं गेंदबाज होने के नाते आप किसी भी ओवर में रिलैक्स होकर नहीं बैठ सकते।

IND vs ZIM 2nd ODI: भारत ने टॉस जीतकर लिया बॉलिंग का फैसला, टीम में हुआ एक बदलावIND vs ZIM 2nd ODI: भारत ने टॉस जीतकर लिया बॉलिंग का फैसला, टीम में हुआ एक बदलाव

Comments
English summary
Yuzvendra Chahal feels there is nothing wrong with Virat Kohli batting form
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X