• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'मैं दीपक हुड्डा को बॉलिंग क्यों नहीं दे सका?' श्रीलंका से भी हारने के बाद रोहित ने दिया जवाब

Google Oneindia News

दुबई, 7 सितंबर: भारतीय क्रिकेट टीम सुपर 4 में लगातार दूसरा मुकाबला हार चुकी है और एशिया कप से बाहर होने की कगार पर बैठी है। पहले पाकिस्तान के खिलाफ मात खाने के बाद भारत ने श्रीलंका के खिलाफ भी दूसरा मुकाबला लगभग उसी अंदाज में गंवा दिया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए एक स्कोर सेट किया और बाद में उसके गेंदबाज उसका बचाव नहीं कर सके। श्रीलंका के खिलाफ भारत मुकाबले में वापसी कर चुका था लेकिन बाद में गेंदबाजों ने काफी रन लीक कर दिए जिसके चलते टीम इंडिया को हार मिली।

हुड्डा को गेंदबाजी नहीं दे सके

हुड्डा को गेंदबाजी नहीं दे सके

इस दौरान कप्तान रोहित शर्मा ने स्वीकार किया कि वह बड़ी बाउंड्री होने का लाभ उठाना चाहते थे और दीपक हुड्डा को गेंद थमाना चाहते थे लेकिन क्रीज पर दाएं हाथ के बल्लेबाज मौजूद थे जिसके चलते वह हुड्डा को गेंदबाजी नहीं दे सके।

शर्मा ने मैच के बाद कहा कि, जिस तरह की शुरुआत श्रीलंका ने की थी उसके हिसाब से हम मैच को अंतिम ओवर तक ले गए जो अच्छी बात है। स्पिनरों ने बीच के ओवरों में हमें विकेट निकाल कर दिए। स्पिनरों ने आक्रामक गेंदबाजी की लेकिन श्रीलंका ने भी अपने ऊपर काबू बनाए रखा।

योजना सही से काम नहीं कर पाई

योजना सही से काम नहीं कर पाई

"हमें लगा कि बड़ी बाउंड्री होने के चलते हम स्पिनरों का अच्छे से इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन योजना सही से काम नहीं कर पाई उनके दाएं हाथ के बल्लेबाज बहुत लंबे समय तक बल्लेबाजी करते रहे। मैं दीपक हुड्डा को लाने और बड़ी बाउंड्री का इस्तेमाल करने की सोच रहा था।"

इस दौरान रोहित ने कहा कि वे तीन पेसरों के साथ भी टीम को आजमाना चाहते थे। रोहित मानते हैं कि भारत पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 से 15 रन कम रह गया।

एशिया कप में अपने आप को दबाव में देखना चाहते थे

एशिया कप में अपने आप को दबाव में देखना चाहते थे

जब रोहित से पूछा गया कि टीम में तीन तेज गेंदबाज शामिल है तो उन्होंने कहा कि टीम आवेश खान को लेना पसंद करती लेकिन उनकी तबीयत ठीक नहीं है। रोहित कहते हैं कि, आवेश खान फिटनेस टेस्ट पास नहीं कर पाए। वह अच्छे से रिकवर कर रहे थे क्योंकि वह बीमार थे। हम आम तौर पर चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरते हैं लेकिन विश्व कप से पहले हम तीन तीन गेंदबाजों को भी आजमाना चाहते हैं। हमें एक टीम के तौर पर कुछ जवाब ढूंढने है जैसे कि हम पांच गेंदबाजों के साथ कैसे खेलते हैं। अब हमें पता है कि इस टीम संयोजन के साथ हम कहां खड़े हैं। इन हारों से ज्यादा चिंतित होने की जरूरत नहीं है क्योंकि हमने केवल दो ही मुकाबले हारे हैं। पिछले विश्वकप से हमने अभी तक ज्यादा मुकाबले नहीं हारे हैं। हम इन मुकाबलों से सबक लेंगे। हम एशिया कप में अपने आप को दबाव में देखना चाहते थे।

टीम कुछ सवालों के जवाब ढूंढ रही थी

टीम कुछ सवालों के जवाब ढूंढ रही थी

भारत अभी भी T20 वर्ल्ड कप से पहले अपनी पूरी टीम उतार नहीं पाया है और रोहित का कहना है कि, टीम कुछ सवालों के जवाब ढूंढ रही थी। हालांकि वे इस बात को लेकर चिंतित नहीं होना चाहते कि भारत एशिया कप में लगातार दो मैच हार चुका है क्योंकि पिछले टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया ने ज्यादा मुकाबले नहीं हारे हैं। रोहित कहते हैं कि, "यह दो मुकाबले भी करीबी थे। अर्शदीप सिंह ने डेथ ओवर में ठीक गेंदबाजी की, उसके लिए श्रेय जाता है। चहल और भुवनेश्वर कुमार सीनियर तेज है और पिछले कुछ समय से टीम के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। हमें युवाओं को देखने की जरूरत थी।"

हार्दिक की रफ्तार थामों, वर्ना ब्रेक टीम का फेल होगा, 140 kph की माया में फंसने से पुजारा का इंकारहार्दिक की रफ्तार थामों, वर्ना ब्रेक टीम का फेल होगा, 140 kph की माया में फंसने से पुजारा का इंकार

Comments
English summary
Asia Cup 2022, IND vs SL: Rohit Sharma explains why did he not give bowling to Deepak Hooda
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X