• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बाड़मेर : रातभर पुलिस थाने में रहे युवक ने सुबह तोड़ दिया दम, SHO सस्पेंड, पूरा थाना लाइन हाजिर

|

बाड़मेर। राजस्थान के बाड़मेर जिले के सदर पुलिस थाने में चोरी का सामान खरीदने के आरोप में हिरासत में लिए गए एक युवक की पुलिस थाने में अचानक तबीयत बिगड़ गई। उसको आनन-फानन में राजकीय अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया और शव उठाने से इंकार कर दिया।

दोपहर को लिया था हिरासत में

दोपहर को लिया था हिरासत में

मामला तूल पकड़ते देख पुलिस अधीक्षक ने बाड़मेर सदर थानाधिकारी दीपसिंह को निलंबित कर पूरे स्टाफ को लाइन हाजिर कर दिया। बता दें कि बाड़मेर के हमीरपुरा निवासी 22 वर्षीय जीतू खटीक को बुधवार दोपहर को सदर थाना पुलिस ने चोरी के आरोप में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। गुरुवार सुबह उसकी तबीयत खराब हो गई। पुलिस ने उसे राजकीय अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 परिजनों ने शव उठाने से इनकार

परिजनों ने शव उठाने से इनकार

घटना की जानकारी के बाद परिजन राजकीय अस्पताल पहुंचे, जहां उन्होंने पुलिस पर मारपीट करने व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए शव उठाने से इंकार कर दिया। पुलिस ने युवक के शव को मोर्चरी में रखवाने की कोशिश की तो परिजनों ने विरोध करते हुए हंगामा कर दिया। इसके बाद शव को वापस इमरजेंसी रूम में रखवाया गया और अस्पताल में आरएसी सहित भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

 थाने में जीतू के खिलाफ दर्ज नहीं था मामला

थाने में जीतू के खिलाफ दर्ज नहीं था मामला

बाड़मेर पुलिस अधीक्षक शरद चौधरी का कहना है कि ग्रामीण पुलिस थाना अधिकारी दीपसिंह को सूचना मिली कि जीतू खटीक के गोदाम में चोरी के पाइप पड़े हैं, जिस पर पुलिस उसको पूछताछ के लिए थाने लेकर आई थी जबकि उसके खिलाफ थाने में कोई चोरी का मामला दर्ज नहीं है। पूछताछ के बाद युवक छोड़ देना चाहिए था, जिसमें थाना अधिकारी दीपसिंह की लापरवाही सामने आई।

मानवाधिकार आयोग को भेजेंगे रिपोर्ट

मानवाधिकार आयोग को भेजेंगे रिपोर्ट

इस पर राष्ट्रीय मानवाधिकार की गाइडलाइंस के अनुसार थानाधिकारी को निलंबित कर दिया गया। वहीं, सदर थाने के पूरे स्टाफ को लाइन हाजिर किया है। युवक का शव अभी भी राजकीय अस्पताल में है। जिसकी जांच व पोस्टमार्टम न्यायिक मजिस्ट्रेट की निगरानी में होगी। इसकी रिपोर्ट राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को भी भेजी जाएगी।

 आईजी बाड़मेर पहुंचे

आईजी बाड़मेर पहुंचे

इस मामले को लेकर गुरुवार शाम को जोधपुर रेंज आईजी नवज्योत गोगई बाड़मेर पहुंचे। सरकारी अस्पताल में मृतक के परिजनों से मुलाकात की और एसपी से अब तक की कार्रवाई की जानकारी ली। वहीं, कानून व्यवस्था के डीजीपी ओपी गलरोत्रा भी जयपुर से बाड़मेर के लिए रवाना हो गए। देर शाम तक परिजनों ने शव नहीं लिया।

Rajasthan : दूध निकालने के दौरान महिला पर गिरी भैंस, 5 मिनट में भैंस ने तोड़ दिया दम, VIDEO

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Young Man Killed in Barmer police custody, SHO suspended
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X