• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उदयपुर में नारायण सेवा संस्थान स्थापित करेगा वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी सेंटर, जानिए इसकी ​खासियत

|

जयपुर। राजस्थान के चैरिटेबल ऑर्गनाइजेशन नारायण सेवा संस्थान (एनएसएस) ने अनूठी पहल के तहत उदयपुर में 'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' (डब्ल्यूओएच) केंद्र स्थापित करने की घोषणा की है। 'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' एक ऐसे मकसद को ध्यान में रखते हुए लॉन्च किया जा रहा है, जहां सभी के लिए एक स्वीकार्य समाज बनाने की पहल की जाएगी और जहां विभिन्न समस्याओं से जूझने वाले लोग निशुल्क लाभ प्राप्त कर सकते हैं। डब्ल्यूएचओ केंद्र लोगों को समाज में बेहतर स्थान बनाने के लिए कौशल प्रशिक्षण के साथ-साथ मुफ्त स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा प्रदान करेगा।

Narayan Seva Sansthan to establish World of Humanity Center in Udaipur Rajasthan

जानिए क्या कहते हैं आंकड़े
जनगणना वर्ष 2011 के आंकड़े बताते हैं कि देश में दृष्टिबाधित लोगों की संख्या 10,634,881 है, जबकि 1,640,868 लोग ऐसे हैं, जो 'स्पीच डिसेबिलिटी' के शिकार हैं। 1,1,261,722 लोग ऐसे हैं, जिनके पास सुनने की शक्ति नहीं है और 6,105,477 लोग चलने-फिरने में अक्षम हैं। बता दें कि ए नारायण सेवा संस्थान दिव्यांग और अभावग्रस्त जोड़ों के लिए 33वें सामूहिक विवाह समारोह का भी आयोजन कर रहा है। 8 व 9 फरवरी को दिव्यांग व निर्धन शाही सामूहिक विवाह समारोह एवं भूमि पूजन होगा।

इन गतिविधियों का आयोजन

'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' केंद्र में दिव्यांग लोगों को सशक्त बनाने के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। इनमें सामूहिक विवाह समारोह, नारायण दिव्यांग खेल अकादमी की ओर से गुणवत्ता बढ़ाने के लिए दिव्यांग प्रतिभा मंच, आदिवासी और ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा को बढ़ावा देने का प्रयास, वर्दी वितरण और दृश्य और श्रवण बाधित लोगों के लिए आवासीय विद्यालय, खाद्य वितरण, किराने का सामान और वस्त्र और कंबल जैसी गतिविधियां शामिल हैं।

राजस्थान : IAS की पत्नी को हराकर सरपंच बनीं MSC की 22 वर्षीय छात्रा, जश्न में डूबा गांव ज्ञानगढ़राजस्थान : IAS की पत्नी को हराकर सरपंच बनीं MSC की 22 वर्षीय छात्रा, जश्न में डूबा गांव ज्ञानगढ़

Narayan Seva Sansthan to establish World of Humanity Center in Udaipur Rajasthan

वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी जैसे प्रयास ही समाधान

नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष श्री प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि उद्योग के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2022 तक स्वास्थ्य सेवा उद्योग 372 बिलियन डॉलर का हो जाएगा। इधर, स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा तेजी से खर्चीले होते जा रहे हैं, ऐसी सूरत में 'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' केंद्र जैसी कोशिशें ही एकमात्र समाधान हैं, जहां सब कुछ मुफ्त है।

तीन साल में शुरू होगा सेंटर
बता दें कि 'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' सेंटर 3 साल में चालू हो जाएगा। यहां भोजन और कपड़ों के साथ सहायक शिक्षा भी निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही 450 शैयाओं वाले अस्पताल के साथ नारायण सेवा संस्थान यहां निशुल्क निदान, उपचार, पोस्ट-ऑपरेटिव देखभाल, फार्मेसी और फिजियोथेरेपी की सेवाएं भी प्रदान करेगा। इसके अलावा 'वर्ल्ड ऑफ ह्यूमैनिटी' सेंटर दिव्यांग लोगों को रोजगार के काबिल बनाने के लिए कला और शिल्प, सिलाई, मोबाइल मरम्मत और मुफ्त बुनियादी शिक्षा जैसे कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित करेगा।

English summary
Narayan Seva Sansthan to establish World of Humanity Center in Udaipur Rajasthan
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X