• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजस्थान: पुजारी हत्याकांड में CB-CID जांच के आदेश, CM गहलोत ने बीजेपी पर लगाए ये आरोप

|

नई दिल्ली: एक ओर जहां कांग्रेस ने बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए गैंगरेप का मुद्दा जमकर उठाया, तो वहीं बीजेपी ने भी राजस्थान के करौली में पुजारी हत्याकांड को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा। मामला बढ़ता देख रविवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसकी जांच CB-CID से करवाने के आदेश दिए। साथ ही बीजेपी पर इस मामले को सांप्रदायिक रंग देने का आरोप लगाया।

    Rajasthan Priest Case की जांच CID-CB को सौंपी, Ashok Gehlot ने BJP लगाया ये आरोप | वनइंडिया हिंदी

    priest case

    सीएम अशोक गहलोत की ओर से जारी बयान के मुताबिक ये मामला दो परिवारों के झगड़े का था, जिसे बीजेपी ने दो समुदायों का बता दिया। साथ ही राजस्थान का माहौल खराब करने की कोशिश की। उन्होंने बताया कि 1991 में जब बीजेपी की सरकार थी, तो मंदिर की जमीन से पुजारियों का नाम हटा दिया गया था। इसके बाद 2011 में कांग्रेस सरकार ने पुरानी स्थित को फिर से बहाल कर दिया। हालांकि हाईकोर्ट ने इस पर रोक लगा दी। इसके बावजूद कांग्रेस सरकार ने पुजारियों के हक की आवाज उठाई और सुप्रीम कोर्ट गई। ऐसे में उन्होंने बीजेपी को मामले में राजनीति नहीं करने की सलाह दी।

    हम किस तरह की बर्बर दुनिया बन रहे हैं? राजस्थान में पुजारी केस पर फूटा रितेश देशमुख का गुस्सा

    क्या है पूरा मामला?

    जानकारी के मुताबिक करौली जिले के बूकना गांव में एक व्यक्ति ने छप्पर डाल कर मंदिर की भूमि पर कब्जा कर लिया था। मंदिर के पुजारी ने इसे हटाने के लिए कहा, जिस पर दबंगों ने पेट्रोल डालकर पुजारी को आग लगा दी। जिसके बाद जयपुर के एसएमएस अस्पताल में उपचार के दौरान गुरुवार शाम सात बजे पुजारी की मौत हो गई। पुलिस ने मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि राज्य सरकार ने पुजारी के परिवार के एक शख्स को नौकरी और 10 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    CB-CID investigation on rajasthan KARAULI priest case
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X