भारत से अपने भाई और चाचा की मौत का बदला लेना चाहते हैं जनरल शरीफ!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इस्‍लामाबाद। उरी आतंकी हमले का बदला लेने के लिए इंडियन आर्मी की हालिया सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद भारत और पाकिस्‍तान के बीच एलओसी पर तनाव बढ़ता जा रहा है। विशेषज्ञ हाल के दिनों में दोनों देशों के बीच पनपे इस तनाव को सर्वोच्‍च बता रहे हैं। वहीं दूसरी ओर इस सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद पाकिस्‍तान सेना के प्रमुख जनरल राहील शरीफ के नेतृत्‍व पर भी लोग अब दबी जुबान से चर्चा करने लगे हैं।

gen-raheel-sharif-hatred-against-india.jpg

पढ़ें-10 सबसे शक्तिशाली हथियार, जो हैं हमारी सेनाओं की ढाल

भारत के खिलाफ शरीफ का एजेंडा

जनरल राहील शरीफ जब से पाक आर्मी के चीफ बने हैं तब से ही वह भारत के खिलाफ अपने एजेंडे को आगे बढ़ा रहे हैं। बहुत कम ही लोगों को मालूम है कि जनरल शरीफ की भारत के लिए नफरत आधिकारिक से ज्‍यादा शायद व्‍यक्तिगत है।

भारतीय एजेंसियों के मुताबिक जब से राहील ने पाक सेना प्रमुख की जिम्‍मेदारी संभाली है उनका मकसद सिर्फ भारत को परेशान करना है।

65 और 71 की जंग में बड़ा नुकसान

वर्ष 1965 और वर्ष 1971 छह वर्ष के अंतराल में भारत और पाकिस्‍तान ने दो बार जंग लड़ी। इन दोनों ही युद्ध में जहां पाकिस्‍तान को बड़ा नुकसान हुआ तो वहीं जनरल राहील ने भी नुकसान झेला।

जनरल शरीफ ने इन दोनों ही जंग में अपने भाई और अपने चाचा को खो दिया था। इस वजह से अब वह भारत के खिलाफ अपने एजेंडे को व्‍यक्तिगत रंग दे चुके हैं।

टैंक से हुए हमले में मौत

जनरल शरीफ के भाई मेजर शब्‍बीर शरीफ पाकिस्‍तान आर्मी के ऑफिसर थे। उन्‍हें पाक के सर्वोच्‍च सम्‍मान निशान-ए-हैदर से नवाज गया था। कहा जाता है कि जब उनकी कंपनी पर ग्रेनेड से हमला किया गया तो उन्‍होंने वह ग्रेनेड पकड़ लिया था।

इसके बाद जब 71 की जंग हुई तो शब्‍बीर शरीफ भारतीय टैंक की ओर से हुए सीधे हमले में मारे गए। उनके चाचा मेजर अजीज भाटी 65 की जंग में मारे गए थे।

पीएम नवाज शरीफ से रिश्‍ते कुछ खास नहीं

जनरल शरीफ ने वर्ष 2014 में जिम्‍मा संभाला था और इसके बाद से ही पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ उनके रिश्‍ते कुछ ज्‍यादा खास नहीं हैं।

पाकिस्‍तान में भारत के राजदूत रहे जी पार्थसारथी मानते हैं कि जनरल शरीफ और पीएम शरीफ दोनों ही एक दूसरे को पसंद नहीं करते हैं।

नवंबर में रिटायर हो रहे हैं शरीफ

जनरल शरीफ अगले माह यानी नवंबर में रिटायर होने वाले हैं और वह ऐसे सभी प्रयास करेंगे जिससे सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद वह अपना सम्‍मान थोड़ बचा सकें।

साथ ही अपने भाई और अंकल की मौत का बदला भारत और इंडियन आर्मी से ले सकें। हालिया सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद जनरल शरीफ ने अपना जो रुतबा बनाया था वह अब बिखरने लगा है।

जा सकती है नवाज की कुर्सी!

पार्थसारथी मानते हैं कि भारत को लेकर उनके व्‍यक्तिगत एजेंडे के बाद खतरा है कि कहीं वही कुछ मूखर्तापूर्ण न कर दें। ऐसे में भारत को तैयार रहना होगा। भारत अगले दो माह तक पाकिस्‍तान में हो रहे घटनाक्रमों पर करीब से नजर रखे हैं।

हो सकता है कि जनरल शरीफ पाक पीएम शरीफ को उनके पद से हटाने की तरफ भी ध्‍यान केंद्रित कर रहे हों। जल्‍द ही जनरल शरीफ सत्‍ता से बाहर होंगे और ऐसे में वह भारत के खिलाफ कोई बड़ा कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगे। 

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan's Army Chief General Raheel Sharif lost both his uncle and brother in the 1965 and 1971 wars against India.
Please Wait while comments are loading...