• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्‍तान न जाने की सलाह दी, आतंकवाद वजह

|

वॉशिंगटन। अमेरिका ने अपने नागरिकों को आतंकवाद के चलते पाकिस्‍तान न जाने की सलाह दी है। इसके अलावा नागरिकों से यह भी कहा गया है कि अगर वे पाकिस्‍तान जाते हैं तो फिर वे बलूचिस्‍तान, खैबर पख्‍तनूनख्‍वा और पीओके जाने से बचें। अमेरिका ने इन जगहों को आतंकी हमलों की वजह से सबसे खतरनाक करार दिया है। अमेरिका की ओर से जारी ट्रैवेल एडवाइजरी में पाकिस्‍तान को लेवल थ्री की कैटेगरी में रखा गया है। यह लिस्‍ट सोमवार को जारी की गई है।

us-pakistan

यह भी पढ़ें-ग्‍लोबल टाइम्‍स ने मोदी को बताया चीन में नेहरु से ज्‍यादा लोकप्रिय

बलूचिस्‍तान और खैबर जाने से बचें

अमेरिका की ओर से जारी इस लिस्‍ट में पाकिस्‍तान की कई जगहों को जिसमें बलूचिस्‍तान के अलावा, खैबर और भारत से सटी बॉर्डर वाली जगहें शामिल हैं, उन्‍हें सबसे ज्‍यादा खतरनाक जगहों यानी लेवल फोर की कैटेगरी में अमेरिका ने रखा है। इसके साथ ही अमेरिकी सरकार ने अपने नागरिकों को इन जगहों पर हाई रिस्‍क की वजह से न जाने को कहा है। अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से कहा गया है, 'पाकिस्‍तान या पाकिस्‍तान के करीब सिविल एविएशन के लिए मौजूद खतरों को देखते हुए फेडरल एविएशन एडमिनिस्‍ट्रेशन की ओर से नोटिस टू एयरमैन यानी नोटैम या जिसे स्‍पेशल फेडरल एविएशन रेगुलेशन (एसएफएआर), जारी किया गया है।'

यह भी पढ़ें-कैसा रहा विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज का रिपोर्ट कार्ड

आतंकी हमलों को संगठन दे सकते हैं अंजाम

विदेश विभाग ने इस बात को जोर देकर कहा है कि आतंकी संगठन पाकिस्‍तान के अंदर सभावित हमलों को अंजाम दे सकते हैं और संगठन हमलों से पहले किसी भी तरह की कोई वॉर्निंग नहीं देते हैं। ये संगठन बस अड्डों, रेलवे स्‍टेशन, बाजार, शॉपिंग मॉल्‍स, मिलिट्री संस्‍थानों, एयरपोर्ट्स, यूनि‍वर्सिटीज, टूरिस्‍ट लोकेशंस, स्‍कूल, अस्‍पताल, सरकारी संस्‍थानों और प्रार्थना करने वाली जगहों को निशाना बना सकते हैं। विदेश विभाग की ओर से कहा गया है कि आतंकी संगठन पहले भी अमेरिकी राजनयिकों और अमेरिकी संस्‍थानों को निशाना बना चुके हैं और आगे भी वे निशाना बना सकते हैं, इस बात की पुख्‍ता जानकारी मिल सके हैं। विदेश विभाग ने इस बात पर भी ध्‍यान दिया है कि भारत और पाकिस्‍तान के बीच पिछले करीब दो माह से तनाव की स्थिति है। इसलिए नागरिकों से अपील की गई है कि वे भारत-पाकिस्‍तान के बॉर्डर के बीच स्थित आधिकारिक क्रॉसिंग प्‍वाइंट का ही प्रयोग करें।

यह भी पढ़ें- 17वीं लोकसभा के लिए हो रहे चुनावों की हर जानकारी विस्‍तार से

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US has advised its citizen to reconsider their travel Pakistan because of terrorism.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X