• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महिला को पैसे देकर छोटे भाई को रेप के आरोप में फंसा दिया, फिर पुलिस ने ऐसे खोली पोल

|

नई दिल्ली। छोटे भाई से प्रॉपर्टी विवाद के चलते एक शख्स ने उसे फंसाने के लिए महिला को सुपारी दे डाली। महिला ने उसके छोटे भाई को दुष्कर्म के आरोप में पुलिस के हाथों पकड़वा दिया। एसीपी सुबोध गोस्वामी की अगुवाई में इस केस की जांच शुरू हुई तो पता चला कि महिला ने जिस टाइम हुई वारदात की शिकायत लिखवाई, उस वक्त तो वह सनलाइट कॉलोनी में थी जबकि, पकड़ा गया व्यक्ति प्रीत विहार में एक पैथोलॉजी लैब में अपनी जांच करा रहा था। जिसके बाद पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो मामले का खुलासा हो गया।

Kalyanpuri delhi: fake rape case filed by man against his own brother

जानकारी के अनुसार, कल्याणपुरी इलाके की एक महिला ने लक्ष्मीनगर निवासी आशीष पर अपना बलात्कार करने के आरोप लगाए। शिकायत मिलते ही सिपाहियों ने आशीष को उठवा लिया। मगर, जैसे ही जांच-पड़ताल शुरू हुई तो आशीष बेकसूर निकला। तब पुलिस ने महिला की काउंसिलिंग की। उसके बाद महिला के बयानों ने कोर्ट में मजिस्ट्रेट के सामने जो कहा, उससे केस की काया पलट गई। उसने बताया कि आशीष के बड़े भाई ने आशीष को झूठे केस में फंसाने के लिए सुपारी दी थी।

पुलिस ने आशीष के बड़े भाई सुनील और एक अन्य साजिशकर्ता सलमान को गिरफ्तार कर लिया। सुनील इस मामले का मुख्य साजिशकर्ता निकला। उसका अपने छोटे भाई से प्रॉपर्टी विवाद चल रहा था, ऐसे में वह छोटे भाई को रास्ते से हटाना चाह रहा था। पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि सनलाइट कॉलोनी थाने में 8 नवंबर को एक महिला की ओर से रेप की शिकायत की गई थी। वह महिला भी आरोपी है।

पढ़ें: अयोध्या का फैसला समझ से परे, मस्जिद के लिए मिलने वाली जमीन सुन्नी वक्फ को नहीं लेनी चाहिए: मदनी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kalyanpuri delhi: fake rape case filed by man against his own brother
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X