• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Maharashtra News:क्या उद्धव ठाकरे को एक और झटका लगेगा, एकनाथ शिंदे कैंप का बड़ा दावा

Google Oneindia News

मुंबई, 5 अक्टूबर: Dussehra Rally Shiv Sena मुंबई में शिवसेना का दोनों गुट इधर वार्षिक दशहरा रैली की तैयारियों में जुटा रहा, उधर उद्धव ठाकरे की गुट को लेकर शिंदे गुट ने एक और बहुत दावा करके सनसनी मचा दी। शिवसेना के लोकसभा सांसद कृपाल तुमाने ने बुधवार को दावा किया कि उद्धव ठाकरे गुट के दो सांसद और पांच विधायक मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे गुट में शामिल होने जा रहे हैं। यह घोषणा दोनों गुटों की ओर से दशहरा रैली के आयोजन के बीच की गई, जिससे महाराष्ट्र की राजनीति में नए सिरे से सरगर्मी आ गई है।

Maharashtra politics: CM Shinde Camp claims, two MPs and 5 MLAs of Uddhav faction are joining

उद्धव ठाकरे को एक और झटका देने की तैयारी!
न्यूज एजेंसी पीटीआई ने एक न्यूज चैनल के हवाले से बताया कि शिवसेना सांसद कृपाल तुमाने ने बुधवार को दावा किया कि शाम में होने वाली मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कैंप की दशहरा रैली में उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली शिवसेना के 2 सांसद और 5 एमएलए सीएम गुट में शामिल होने वाले हैं। तुमाने ने बताया है कि दोनों सांसद मुंबई और महाराठवाड़ा क्षेत्र के हैं। शिंदे गुट के नेता तुमाने ने कहा कि 'आप शाम में देखेंगे।' उन्होंने कहा कि जो शिंदे गुट की विचारधारा में विश्वास करते हैं, वो खुद संपर्क कर रहे हैं और शामिल हो रहे हैं। तुमाने महाराष्ट्र के रामटेक से सांसद हैं।

Maharashtra politics: CM Shinde Camp claims, two MPs and 5 MLAs of Uddhav faction are joining

ज्यादातर एमएलए और सांसद शिंदे के साथ
मौजूदा समय में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ सीएम समेत शिवसेना के 40 विधायक और 12 लोकसभा सांसद हैं। जबकि, उद्धव गुट के साथ सिर्फ 15 एमएलए और 6 लोकसभा सांसद बच गए हैं। इस साल जून में दो फाड़ होने से पहले शिवसेना के पास महाराष्ट्र से 18 और दादर और नगर हवेली से एक लोकसभा सांसद थे। शिंदे गुट की दशहरा रैली मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्पलेक्स के एमएमआरडी मैदान में आयोजित की गई है।

Maharashtra politics: CM Shinde Camp claims, two MPs and 5 MLAs of Uddhav faction are joining

जून में गिर गई थी उद्धव सरकार
गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे गुट को बॉम्बे हाई कोर्ट की दखल की वजह से दादर के ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में ही दशहरा रैली की अनुमति मिली है। शिंदे ने 39 विधायकों के साथ उद्धव के नेतृत्व के खिलाफ विद्रोह करके जून महीने में अलग गुट बना लिया था और बीजेपी के साथ मिलकर राज्य में सरकार बना ली थी। उनके विद्रोह की वजह से ठाकरे की अगुवाई वाली महा विकास अघाड़ी की सरकार गिर गई थी। शिंदे ने 30 जून को उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ नई सरकार का गठन किया था।

दरअसल, हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने जबसे शिवसेना पार्टी और उसके चुनाव चिन्ह पर फैसला लेने के लिए चुनाव आयोग को सुनवाई करने की अनुमति दी है, शिंदे कैंप का हौसला बुलंद है। क्योंकि, चुनाव आयोग को पार्टी पर किसी तरह का फैसला लेने से रोकने को लेकर उद्धव गुट ने ही सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और कपिल सिब्बल जैसे वकील ने उसके पक्ष में तमाम दलीलें पेश की थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग के अधिकार पर रोक लगाने से इनकार कर दिया।

इसे भी पढ़ें- Dussehra rally Shivaji Park: शिवसेना के लिए शिवाजी पार्क की दशहरा रैली क्यों महत्वपूर्ण है ?इसे भी पढ़ें- Dussehra rally Shivaji Park: शिवसेना के लिए शिवाजी पार्क की दशहरा रैली क्यों महत्वपूर्ण है ?

Comments
English summary
Maharashtra:two MPs and 5 MLAs from Shiv Sena of Uddhav Thackeray faction have been claimed to join Chief Minister Eknath Shinde faction
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X