• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

DIG छेड़खानी केस: मुंबई से लापता हुई लड़की देहरादून में मिली, दोस्त गिरफ्तार

|

नवी मुंबई। महाराष्ट्र के नवी मुंबई के चर्चित छेड़खानी केस में डीआईजी निशिकांत मोरे निलंबित कर दिए गए हैं और घर में सुसाइड नोट छोड़कर लापता हुई 17 साल की पीड़िता को भी देहरादून में पुलिस ने खोज निकाला। अब इस मामले में बड़ा मोड़ आया है। देहरादून होटल में पीड़िता के साथ उसका 20 साल का दोस्त भी मिला जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दोस्त पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस

दोस्त पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस

पीड़िता के दोस्त पर पॉक्सो एक्ट के तहत अपहरण और यौन शोषण का आरोप लगाया गया है। एक सप्ताह पहले पीड़िता रात में घर से लापता हो गई थी। उसने पीछे सुसाइड नोट लिखकर छोड़ा था जिसमें उसने डीआईजी निशिकांत मोरे पर दबाव डालने का आरोप लगाया था।

पुलिस ने मामले पर बताया

पुलिस ने मामले पर बताया

पीड़िता की बरामदगी के बाद पुलिस ने इस मामले पर बताया कि लड़की का बयान दर्ज किया गया है। लड़के ने उसे साथ जाने के लिए मजबूर किया या नहीं, इसकी जांच जारी है। लड़के का कहना है कि मानसिक रूप से परेशान पीड़िता ने उसे कॉल किया था और उसे कहीं ले चलने को कहा था। वह लड़की को पहले इलाहाबाद ले गया और उसके बाद दोनों देहरादून चले गए। वहां एक बंगले में दोनों पेइंग गेस्ट के तौर पर रुके हुए थे और लड़के ने वहां कपड़े की फैक्ट्री में नौकरी भी तलाश ली थी। लड़के ने पुलिस को बताया कि उसने लड़की को सुसाइड नोट लिखने से मना किया था।

सीसीटीवी में जाते दिखे थे दोनों

सीसीटीवी में जाते दिखे थे दोनों

पुलिस ने बताया कि 6 जनवरी की रात में जब लड़की घर से फरार हुई थी तब लड़का उसे लेने के लिए घर के पास आया था। सीसीटीवी में दोनों साथ जाते दिखे थे। इसके बाद दोनों रेलवे स्टेशन पर भी साथ दिखे। ट्रेन से इलाहाबाद जाकर वे रिश्तेदार के यहां रुके। जब टीवी चैनल पर लड़की के लापता होने की खबर चलने लगी तो दोनों देहरादून चले गए।

लड़की ने किया पिता को फोन

लड़की ने किया पिता को फोन

देहरादून पहुंचने के बाद लड़की ने पापा को फोन कर कहा कि वह देहरादून में दोस्त के साथ सेफ हैं। पुलिस ने उसकी लोकेशन ट्रेस कर ली और वहां से बरामद कर लिया। पुलिस दोनों को मुंबई ले आई। लड़के को 12 दिनों की रिमांड पर पुलिस ने लिया है। इस मामले के मुख्य आरोपी निलंबित डीआईजी निशिकांत मोरे फरार हैं। उनके खिलाफ लड़की के पिता ने छेड़खानी का केस दर्ज कराया था। पिता के मुताबिक, जन्मदिन की पार्टी में बिन बुलाए मेहमान बनकर पहुंचे डीआईजी ने उनकी बेटी को गलत तरीके से छुआ था जिसके बाद वह मानसिक तौर से काफी परेशान रहने लगी थी।

महाराष्ट्र: दोस्त की 17 साल की बेटी से यौन शोषण मामले में DIG निशिकांत मोरे सस्पेंड, चल रहा फरारमहाराष्ट्र: दोस्त की 17 साल की बेटी से यौन शोषण मामले में DIG निशिकांत मोरे सस्पेंड, चल रहा फरार

English summary
Girl found in dehradun in dig molestation case
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X