• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

ओडिशा में युवती की हत्या मामले में साध्वी प्रज्ञानंद सीएम से मिली, बोली—सीबीआई जांच कराएं

मप्र के बीना से परिवार सहित जगन्नाथपुरी घूमने गई युवती का अपहरण, निर्मम हत्या के मामले में साध्वी प्रज्ञानंद ने सीबीआई जांच कराने की मांग की है। सीएम ने पीड़ितों को मिलने बुलाया है।
Google Oneindia News

Sadhvi Pragyanand: ओडिशा में सागर जिले के बीना की युवती के होटल के बाहर से अपहरण, दुष्कर्म की आशंका और हत्या के मामले में अब साध्वी प्रज्ञानंद की एंट्री हो गई है। बीते रोज भोपाल में साध्वी प्रज्ञानंद पीड़ित परिजन को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री के कार्यक्रम में सीएम से मिलाने ले गई थीं। यहां साध्वी ने सीएम से इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की थी। सीएम ने इस मामले में विस्तृत चर्चा के लिए साध्वी व परिजन को सीएम हाउस बुलाया है। इधर सागर एसपी और एमपी के डीजीपी के हस्ताक्षेप के बाद अब पुरी में ​पुलिस की विशेष टीम को जांच सौंप दी गई है।

sadhvi pragyanand & cm

सागर जिले के बीना की युवती के ओडिशा के जगन्नाथपुरी में होटल के बाहर से अपहरण होने, दुष्कर्म की आशंका और हत्या का समुंदर किनारे बीच पर फैंके जाने के मामला अब हाई प्रोफाइल होता जा रहा है। मामले में भोपाल सांसद व साध्वी प्रज्ञानंद की एंट्री हो गई है। वे बीते रोज परिजन को लेकर सीएम से मिलाने ले गई थीं। वित्त मंत्री के कार्यक्रम के दौरान काफी भीड़ होने के कारण कम समय में उन्होंने सीबीआई जांच की मांग की थी। सीएम ने इस मामले में पीड़ित पक्ष को बुलाया है। घटना सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल इस मामले में एमपी के डीजीपी से बात कर चुके हैं। एमपी डीजीपी ने ओडिशा डीजीपी से बात कर मामले में जांच की बात कही थी, तो सागर एसपी ने इस मामले में जगन्नाथ पुरी के एसपी को पत्र लिखा था।

जगन्नाथपुरी एसपी का जवाब, एसडीओपी स्तर के अधिकारी जांच कर रहे
पुरी के एसपी ने सागर एसपी के पत्र का जवाब भेजते हुए जानकारी दी है। इसमें युवती के समुंदर किनारे मृत अवस्था में पाए जाने से लेकर अब तक की गई कार्रवाई, पीएम कराए जाने, शव परिजन को सौंपकर अंतिम संस्कार किया जा चुका है। जवाब में यह भी बताया गया ​है कि इस मामले में पुलिस की विशेष टीम तैयार कर जांच कराई जा रही है। एक एसडीओपी व एक डीएसपी स्तर के अधिकारी को शामिल किया गया है। पुरी के एसपी ने घटना के पहले दिन से अभी तक पुरी की पुलिस द्वारा की गई जांच व एक के बाद तीन स्तर पर वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती व तीन स्तर पर अब तक जांच की जानकारी सागर एसपी को दी है।

यह है पूरा मामला
मप्र के सागर जिले के बीना का एक परिवार जिसमें माता-पिता और बेटा-बेटी, चाचा घूमने के लिए ओडिशा गए थे। यहां पर चाचा सुबह मंदिर गए थे। गैलरी से कपड़े नीचे गिर गए तो 18 साल की युवती उसे उठाने नीचे गई थी, इसके बाद फिर वह नहीं लौटी। परिजन का आरोप है कि उसका होटल के बाहर से अपहरण कर लिया गया। परिजन उसके साथ दुष्कर्म की आशंका जता रहे हैं। दिनभर पुलिस मिन्नतें करने और पैर तक पड़ने के बाद पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया। तीन दिन बाद युवती का शव अर्धनग्न अवस्था में समुंदर किनारे बीच पर सड़ीगली अवस्था में मिला था। उसके शरीर पर फफोले पड़े थे, चेहरा व हाथ ऐसे लग रहे थे, जैसे उन्हें जलाया गया हो। बावजूद इसके ओडिशा पुलिस इसे आत्महत्या करा दे रही थी।

Comments
English summary
Sadhvi Pragyanand has introduced the family to the CM in connection with the kidnapping and murder of Sagar's Bina girl in Puri, Odisha. He has demanded a CBI inquiry into the matter. Here, after the intervention of the MP DGP, a special police team in Puri is probing the matter.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X