• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मध्य प्रदेश: केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के चित्र पर पोती कालिख, गिरफ्तार सवर्णों ने रिहा होने से किया इनकार

|

ग्वालियर। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में आंदोलन कर रहे सपाक्स और सवर्ण समाज रक्षक दल के सदस्यों ने रविवार को ग्वालियर के मृगनयनी गार्डन में आयोजित भाजपा के किसान सम्मान समारोह के दौरान हंगामा कर दिया इन लोगों ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत अन्य भाजपा नेताओं के चित्रों पर कालिख भी पोत दी। सूचना मिलते ही यहां भारी संख्या में पहुंचे पुलिस बल ने तत्काल मोर्चा संभाला और आंदोलनकारियों को हिरासत में ले लिया। जिसके बाद केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर आयोजन में शामिल हुए।

भाजपा सरकार के खिलाफ सवर्णों ने किया आंदोलन

भाजपा सरकार के खिलाफ सवर्णों ने किया आंदोलन

भारतीय जनता पार्टी द्वारा मृगनयनी गार्डन में किसान सम्मान समारोह का आयोजन रविवार को किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर थे। लेकिन कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही यहां सपाक्स के लोग पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह को काले झंडे दिखाने की कोशिश कर रहे सपाक्स और सवर्ण रक्षक दल के कार्यकर्ताओं ने यहां जमकर हंगामा किया और भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। यही नहीं आंदोलनकारियों ने केन्द्रीय मंत्री तोमर को ज्ञापन देने की मांग करते हुए आयोजन स्थल के बाहर धरना शुरू कर दिया।

चक्काजाम की कोशिश, पुलिस ने लिया हिरासत में

चक्काजाम की कोशिश, पुलिस ने लिया हिरासत में

प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं को जब पुलिस ने कार्यक्रम स्थल तक नहीं पहुंचने दिया तो उन्होंने बाहर सड़क पर ही हंगामा करना शुरू कर दिया। सवर्ण समाज के लोग रेसकोर्स रोड पर चक्काजाम की कोशिश कर रहे थे। तभी पुलिस ने कुछ आंदोलनकारियों को हिरासत में ले लिया। आंदोलनकारियों की गिरफ्तारी की खबर सुनते ही उनके समर्थक और अधिक संख्या में मौके पर पहुंच गए। आक्रोशित सवर्ण समाज के लोगों ने कार्यक्रम स्थल के बाहर लगे केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत भाजपा नेताओं के बैनरों, पोस्टरों पर कालिख भी पोत दी। इतना ही नहीं आंदोलनकारी यहां पुलिस वैन के आगे लेट गए और गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं ने रिहा होने से इनकार कर दिया।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया हमला

भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया हमला

मृगनयनी गार्डन में हो रहे कार्यक्रम के दौरान जब सवर्ण समाज ने विरोध प्रदर्शन किया तो पुलिस ने वहां मौजूद पत्रकार कौशल मुदगल को भी गिरफ्तार कर लिया। बाद में जब लोगों ने पुलिस को बताया कि वह पत्रकार है और उन्हें छोड़ा जाए। इसे पुलिस ने मान लिया और वह कौशल मुदगल को छोड़ रही थी तभी वहां मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं ने कौशल मुदगल समेत अन्य पर हमला कर दिया जिसमें तीन से चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बाद में यह सभी लोग गोला का मंदिर थाने पहुंच गए और हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग को लेकर घेराव कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
general cast people protest against bjp cabinet minister in gwalior
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X