• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

रंजीत बच्चन हत्याकांड: पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई सामने, 9 MM पिस्टल से गोली मारने का शक

|

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में रविवार सुबह अंतरराष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारोपियों ने रंजीत बच्चन के सिर और चेहरे पर गोली मारकर घटना को अंजाम दिया था। वहीं, रंजीत बच्चन की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, हत्यारोपियों ने नाक पर करीब से गोली मारी थी, वहीं अत्यधिक खून बहने से मौत हुई है। वहीं, 9 एमएम की पिस्टल से गोली मारने की बात भी सामने आ रही है। इससे पहले बदमाशों द्वारा मुंगेर की बनी .32 बोर के पिस्टल का इस्तेमाल करने का मामला सामने आया था।

हजरतगंज इलाके में घटना को दिया गया अंजाम

हजरतगंज इलाके में घटना को दिया गया अंजाम

मामला हजरतगंज इलाके की है। मूल रूप से गोरखपुर के रहने वाले रंजीत बच्चन हजरतगंज के ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे। सुबह करीब साढ़े छह बजे वह अपने एक दोस्त आशीष श्रीवास्तव के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। ग्लोब पार्क के बाहत निलते ही बाइक सवार बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। फायरिंग में रंजीत के दोस्त आशीष भी घायल हुए हैं, जिनका इलाज ट्रामा सेंटर में चल रहा है। वहीं, लखनऊ के एडिशनल पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा ने बताया कि घटनास्थल से मृतक रंजीत बच्चन के दो मोबाइल बरामद हुए हैं। साइबर सेल की एक टीम मोबाइल डेटा खंगालने में लगी है। वहीं, सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है।

पहली पत्नी से था विवाद

पहली पत्नी से था विवाद

अंतरराष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन ने दो शादियां की है। बता दें कि पहली पत्नी से रिश्ता टूटने के बाद रंजीत ने दूसरी शादी की थी। इस मामले में उनके खिलाफ गोरखपुर में पारिवारिक रंजिश की एक एफआईआर भी दर्ज है। एडिशनल पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा के मुताबिक, मामले की जांच में कुल आठ टीमों को लगाया गया है। मृतक रंजीत बच्चन के खिलाफ गोरखपुर जिले में एक एफआईआर भी दर्ज है। पुलिस हर एंगल पर जांच पड़ताल में जुटी है।

चार पुलिसकर्मी सस्पेंड

चार पुलिसकर्मी सस्पेंड

नवीन अरोड़ा ने बताया कि हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या में बदमाशों ने मुंगेर की बनी .32 बोर के पिस्टल का इस्तेमाल किया था। घटना के बाद लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने चार पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया है। चौकी इंचार्ज (परिवर्तन चौक) संदीप तिवारी समेत परिवर्तन चौक के पीआरवी पर तैनात तीन पुलिसकर्मी पर लापरवाही पर कार्रवाई की गई है।

सपा ने योगी सरकार से मांगा इस्तीफा

सपा ने योगी सरकार से मांगा इस्तीफा

बता दें कि रंजीत ​बच्चन समाजवादी पार्टी से भी जुड़े थे। वह सपा के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी करवाते रहे हैं। उनकी हत्या के बाद सपा ने प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया है कि दिनदहाड़े हुई इस हत्या से आम जनमानस में दहशत है। उत्तर प्रदेश में सरकार और पुलिस का इकबाल खत्म हो गया है। सरकार को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए।

ये भी पढ़ें:- मूर्ति विसर्जन को लेकर शेखपुरा में हिंसक झड़प, JDU नेता की गोली लगने से हुई मौत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ranjit Bachchan murder case: Post mortem report surfaced
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X