• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बस पॉलिटिक्स: बसों का किराया मांगने पर राजस्थान सरकार पर भड़की मायावती, कही यह बात

|
Google Oneindia News

लखनऊ। लॉकडाउन के बीच गैर प्रदेशों से पलायन कर उत्तर प्रदेश वापस लौट रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए बस मुहैया कराने को लेकर उत्तर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है। इस मामले को लेकर कांग्रेस और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के बीच लगातार राजनीतिक बयानबाजी जारी है। अब बीते दिन राजस्थान सरकार ने कोटा से यूपी बॉर्डर तक भेजे गए बच्चों की बसों का किराया यूपी सरकार को सौंप दिया, जिस पर मुख्यमंत्री मायावती ने कांग्रेस पर निशाना साधा है।

    UP Bus Politics: 36 लाख का बिल भेजने पर Congress पर बरसीं Mayawati, सुनाई खरी-खोटी | वनइंडिया हिंदी
    मायावती ने कही यह बात

    मायावती ने कही यह बात

    बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने राजस्थान के कोटा से प्रतियोगी छात्र-छात्राओं को यूपी छोड़ने के लिए किराया वसूलने पर नाराजगी जताई है। साथ उन्होंने कांग्रेस को इस बात पर घेरते हुए शुक्रवार को ट्वीट किया है। मायावती ने लिखा, ‘राजस्थान की कांग्रेसी सरकार द्वारा कोटा से करीब 12000 युवा-युवतियों को वापस उनके घर भेजने पर हुए खर्च के रूप में यूपी सरकार से 36.36 लाख रुपए और देने की जो मांग की है, वह उसकी कंगाली व अमानवीयता को प्रदर्शित करता है। दो पड़ोसी राज्यों के बीच ऐसी घिनौनी राजनीति अति-दुखःद है।'

    राजनीतिक खेल-खेल रही है

    मायावती ने आगे लिखा कि 'कांग्रेस की राजस्थान सरकार एक तरफ कोटा से यूपी के छात्रों को अपनी कुछ बसों से वापस भेजने के लिए मनमाना किराया वसूल रही है तो दूसरी तरफ अब प्रवासी मजदूरों को यूपी में उनके घर भेजने के लिए बसों की बात करके जो राजनीतिक खेल खेल कर रही है। यह कितना उचित और कितना मानवीय है?'

    क्या है मामला

    क्या है मामला

    बता दें कि कांग्रेस की राजस्थान सरकार ने लॉकडाउन में फंसे कुछ छात्रों को कोटा से यूपी बॉर्डर तक छोड़ने की एवज यूपी सरकार से 36 लाख रुपए बसों का किराया और 19.50 लाख रुपए डीजल का वसूला है। उत्तर प्रदेश राज्य परविहन निगम ने बिलों का भुगतान कर दिया है। राजस्थान के कोटा में फंसे बच्चों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने राजस्थान सरकार से अनुरोध किया था कि अपनी कुछ बसों से वहां पर शेष बचे हुए बच्चों को यूपी की सीमा मथुरा या आगरा तक पहुंचा दें। वहां से इन्हें यूपी रोडवेज की बसों से घर भेज दिया जाएगा। इस पर राजस्थान सरकार ने 94 बसों का इंतजाम किया था। वहीं, उत्तर प्रदेश राज्य परविहन निगम की झांसी से गई बसों में डीजल कम पड़ा तो 320 बसों में डीजल भी राजस्थान के डीजल पंपों से लिया गया था।

    ये भी पढ़ें:- बसें लेकर DND फ्लाईओवर पर पहुंचे कांग्रेसी, पुलिस ने लॉकडाउन तोड़ने पर दर्ज की FIRये भी पढ़ें:- बसें लेकर DND फ्लाईओवर पर पहुंचे कांग्रेसी, पुलिस ने लॉकडाउन तोड़ने पर दर्ज की FIR

    English summary
    Bus Politics: Mayawati attacks on Rajasthan government for demanding bus fares
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X