भाजपा सांसद रूपा गांगुली को पड़ा सेरिब्रल अटैक, अस्पताल में भर्ती

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में भाजपा का चेहरा मानी जाने वाली राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली को ब्रेन टिश्‍यूज में खून के थक्‍के जमने के बाद कोलकाता के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। शुक्रवार को शाम चार बजे सिर में तेज दर्द और अचानक बेहोशी आने के बाद उनको अस्पताल लाया गया।

भाजपा सांसद रूपा गांगुली की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

रूपा को कोलकाता के एएमआरआई अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पश्चिम बंगाल के भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जॉयप्रकाश मजूमदार ने इसकी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि परेशानी बढ़ने के बाद रूपा को अस्पताल लाया गया है। उन्होंने बताया कि रूपा की हालत अब स्थिर है और डॉक्टरों ने उनको आराम की सलाह दी है।

बीजेपी नेता रूपा गांगुली उर्फ द्रौपदी ने की थी तीन बार आत्महत्या की कोशिश

अभिनेत्री से राजनीति में आईं रूपा गांगुली जनवरी 2015 में भाजपा में शामिल हुईं थी। इसी साल अक्‍टूबर में भाजपा ने उन्‍हें राज्‍यसभा भेजा था। उनको क्रिकेटर से नेता बने नवजौत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद खाली हुई सीट पर राज्यसभा भेजा।

टीएमसी समर्थक को थप्पड़ मार चर्चा में आईं थी रूपा

इससे पहले उन्‍होंने बंगाल विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था लेकिन उन्‍हें टीएमसी के उम्मीदवार लक्ष्मी रतन शुक्ला से हार झेलनी पड़ी थी। माना जा रहा है कि भाजपा पश्चिम बंगाल में रूपा को अपना चेहरा बनाने पर विचार कर रही है। उन्होंने एक तेजतर्रार नेता के तौर पर अपनी पहचान बनाई है।

रूपा गांगुली को टेलीविजन सीरियल 'महाभारत' में द्रौपदी का किरदार निभाने के बाद पहचान मिली थी। राजनीति में आने के बाद उनको पहली बार उन पर तब देश का ध्यान गया था जब बंगाल विधानसभा के दौरान उन पर टीएमसी समर्थक के साथ मारपीट करने का आरोप लगा था।

वोटिंग के दौरान रूपा गांगुली को कैमरे पर तृणमूल कांग्रेस की महिला समर्थक को थप्‍पड़ मारते देखे जाने के बाद उनकी आलोचना की गई थी। कुछ समय बाद उन्होंने तृणमूल समर्थकों पर उनपर हमला करने का आरोप लगाया था, जिसमें उनके सिर पर चोटें आई थीं।

कोलकाता: 25 करोड़ के पुराने नोट बदलने वाला बिजनेसमैन गिरफ्तार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bjp mp Roopa Ganguly hospitalised in kolkata
Please Wait while comments are loading...