• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन में पीछे से छेद वाली पैंट क्यों पहनते हैं बच्चे?

By Bbc Hindi

अगर आप किसी बच्चे को गली, पार्क या शॉपिंग सेंटर में सरेआम उकड़ूं बैठकर शौच कर देखें तो आप क्या सोचेंगे? चीन में ऐसा होते दिखना आम बात है.

बच्चों को चलने-फिरने में दिक्कत न हो इसलिए चीन के बहुत से लोग उन्हें एक तरह की पारंपरिक ड्रेस पहनाते हैं. इसे 'कई डांग कू' कहा जाता है.

यह एक ख़ास तरह की पैंट होती है जिसके पिछले हिस्से में बड़ा से छेद होता है. ये सच है कि पहले की तुलना में अब इनका कम इस्तेमाल होता है लेकिन ये चलन खत्म भी नहीं हुआ है.

विदेशियों को इस तरह की पैंट का कोई मतलब समझ नहीं आता. बाहर से आए ज्यादातर लोगों को यही लगता है कि ये अच्छी आदत नहीं है और इससे बच्चों को परेशानी होती है.

ब्राज़ील से हाल ही में बीजिंग शिफ़्ट हुए एक वकील ने बीबीसी से बताया, "पिछले हफ़्ते मैं बीजिंग के एक महंगे शॉपिंग सेंटर गया था. मैंने देखा कि वहां एक बच्चा झुककर बैठा है और पॉटी कर रहा है. फिर मैंने उसकी मां को पॉटी उठाते देखा. मैं हैरान रह गया. ये सब बहुत अजीब था."

बच्चे का नाम 'जिहाद' रखने पर बवाल

बच्चे पैदा करने की 'पारसी जियो योजना'

देखने में ये भले ही कितना गंदा लगता हो लेकिन ऐसा भी नहीं है कि इससे सिर्फ़ नुकसान ही होते हैं. इसके कुछ फ़ायदे भी हैं.

फ़ायदे

चीन में लोगों का मानना है कि ऐसी पैंट पहनने वाले बच्चे जल्दी वॉशरूम इस्तेमाल करना सीखते हैं. वहीं, डायपर पहनने वाले बच्चों को वॉशरूम जाने की आदत देर से लगती है.

अगर बच्चे ग़लत जगह पर पॉटी करने के लिए बैठते हैं बड़े उन्हें रोकते हैं. चीन में तीन-चार महीने की उम्र से ही बच्चों को बाथरूम में जाना सिखाया जाता है, जबकि पश्चिमी देशों में एक-डेढ़ साल की उम्र से.

चीन में बच्चों को पहनाई जाने वाली पारंपरिक पोशाक
Getty Images
चीन में बच्चों को पहनाई जाने वाली पारंपरिक पोशाक

चीनी बच्चों का यह पहनावा लोगों का ध्यान इस कदर अपनी ओर खींच रहा है कि इंटरनेट पर इस बारे में बात करने के लिए बाकायदा फ़ोरम बनाए जा रहे हैं.

बस के अंडरकैरिज में 80 किमी. तक सफर

क्यों ढकनी पड़ी बच्चे को खाना देने वाली मूर्ति?

'कई डांग कू' की लोकप्रियता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि चीन के ज्यादातर बाज़ारों में कपड़ों की दुकानों पर बिना छेद वाली पैंट मिलना मुश्किल होता है.

नुक़सान

इन पैंटों का नुक़सान ये है कि आपको जगह-जगह घरों के बार पॉटी करते बच्चे दिखाई देंगे. नतीजन, सार्वजनिक स्थानों पर गंदगी और बदबू फैली रहती है जो बीमारियों को जन्म देती है. इस मामले में शहरों के मुकाबले चीन के गांवों की स्थिति ज़्यादा ख़राब है.

दुनिया में इस मुद्दे पर विवाद हो रहा है कि क्या 'कई डांग कू' का इस्तेमाल पर्यावरण के लिए अच्छा है या नहीं.

कहा जा रहा है कि इसके इस्तेमाल से कई टन कूड़े का ख़तरा कम हो रहा है. कई यूरोपीय देशों में भी अब लोगों से कहा जा रहा है कि वो बच्चों को कपड़े के डायपर पहनाएं.

हालांकि अब चीनी डॉक्टर ये मानने लगे हैं कि डिस्पोजेबल डायपर का इस्तेमाल करना ज़्यादा अच्छा है. बशर्ते उन्हें जल्दी-जल्दी बदला जाए वर्ना बीमारियों का ख़तरा रहता है.

इसके अलावा डायपर के इस्तेमाल को अब स्टेटस सिंबल से जोड़कर भी देखा जाने लगा है.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Why do children wear behind whole pants in China
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X