अमेरिका की पाकिस्तान को दो टूक, सुरक्षित आतंक के ठिकाने खत्म नहीं हुए तो हम बर्बाद कर देंगे

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पाकिस्तान में चल रहे आतंकी ठिकानों पर अमेरिका ने अब पाक को दो टूक जवाब दिया है। अमेरिका की खुफिया एजेंसी के चीफ ने साफ कहा है कि अगर पाकिस्तान आतंक को पनाह देना बंद नहीं करता है और उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं करता है तो हम कुछ भी करेंगे ताकि इस बात को सुनिश्चित कर सके कि पाकिस्तान में इस तरह का कोई भी सुरक्षित आतंकी ठिकान ना बचे। अमेरिका के वॉयस ऑफ अमेरिका रेडियो से बात करते हुए अमेरिकी खुफिया एजेंसी के चीफ ने कही। अमेरिका के सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के चीफ माईक पॉपियो का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब दो दिन बाद अमेरिकी रक्षा सचिव जेम्स मैटिस पाकिस्तान के दौरे पर जा रहे हैं।

रक्षा सचिव ने किया बचाव

रक्षा सचिव ने किया बचाव

माईक ने कहा कि मैटिस पहले पाकिस्तान से इस बात को अच्छे से कहेंगे, वह अमेरिका के राष्ट्रपति का संदेश पाकिस्तान को देंगे कि ट्रंप आतंक को पनाह देने वाली जगह को खत्म करने के लिए काफी गंभीर हैं। माईक ने कहा कि अगर पाकिस्तान ऐसा नहीं कर पाता है तो हम कुछ भी करेंगे ताकि पाकिस्तान में इस तरह का सेफ टेरर हेवेन ना बचे। वहीं मैटिस ने कहा कि हम पाकिस्तान को ठेस नहीं पहुंचाएंगे क्योंकि हमे उम्मीद है कि वह आतंकवाद को खत्म करने का अपना वायदा पूरा करेगा।

पाक दौरे पर रक्षा सचिव

पाक दौरे पर रक्षा सचिव

वॉयस ऑफ अमेरिका के अनुसार पाकिस्तान जाने से पहले मैटिस ने कहा कि मैं इस तरह से मुद्दों को नहीं हैंडल करता, मैं इस बात को मानता हूं कि हम एक साथ मिलकर समाधान ढूंढते हैं और फिर उसपर काम करते हैं। मैटिस आज इस्लामाबाद पहुंच रहे हैं, माना जा रहा है कि वह पाकिस्तान की सेना और शीर्ष नेताओं से मुलाकात करेंगे। वह अफगानिस्तान, क्षेत्रीय सुरक्षा सहित तमाम द्वीपक्षीय मुद्दों पर बात करेंगे।

ट्रंप ने दिया था दो टूक बयान

ट्रंप ने दिया था दो टूक बयान

अमेरिका कई सालों से यह कहता आ रहा है कि पाकिस्तान अफगानी तालिबानियों को पनाह दे रहा है, हक्कानी नेटवर्क को भी वह पनाह दे रहा है जो अफगानिस्तान में कई आतंकी घटनाओं को अंजाम देता है, जिसके चलते ना सिर्फ अफगानिस्तान बल्कि अमेरिका के भी सैनियों को जान गंवानी पड़ती है। अगस्त माह में ट्रंप ने पाकिस्तान पर आतंकियों को पनाह देने का आरोप लगाया था, उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान ऐसे आतंकी संगठनों की मदद करता है जोकि अमेरिकियों को मारते हैं। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर इसके खिलाफ पाकिस्तान ने ठोस कदम नहीं उठाया तो अमेरिका की ओर से मिलने वाली आर्थिक मदद को रोक दिया जाएगा।

पाक ने अभी तक कुछ नहीं किया

पाक ने अभी तक कुछ नहीं किया

ट्रंप प्रशासन के शीर्ष अधिकारी का कहना है कि ट्रंप की इस दो टूक के बाद पाकिस्तान ने कुछ भी नहीं किया है। पिछले हफ्ते यूएस कमांडर ने कहा था कि तालिबान पाकिस्तान में बहुत आराम से रह रहा है और उसे काफी ड्रग्स का पैसा मिल रहा है। उन्होंने कहा कि ट्रंप के बयान के 100 दिन बीतने के बाद भी पाकिस्तान को सेफ टेरर हेवेन, आतंक और हिंसा को रोकने के लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है। यूएस कमांडर व अफगानिस्तान में इंटरनेशनल फोर्स के कमांडर जॉन निकलसन ने कहा कि हमने अभी तक कुछ नया करते हुए नहीं देखा है, पाकिस्तान ने कुछ कदम उठाने की बात कही थी लेकिन अभी तक ये कदम नहीं उठाए हैं।

इसे भी पढ़ें- INDIAN ARMY में फूट डालने के लिए ISI का घटिया तरीका!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US warns Pakistan if safe heavens of terror not destroyed we will do anything. This statement has come two days ahead of US Defence secretary Pak visit.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.