अमेरिका और ब्रिटेन रूस की मदद से बड़े साइबर अटैक की तैयारी, जारी हुआ अलर्ट

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

सैन फ्रांसिस्‍को। साइबर सुरक्षा से जुड़े एजेंसियों ने अमेरिका और ब्रिटेन को रूस की मदद से होने वाले साइबर अटैक को लेकर आगाह किया है। एजेंसियों की ओर से कहा गया है कि इन साइबर अटैक्‍स के जरिए रूस, सरकारी और प्राइवेट सेक्‍टर्स को निशाना बना सकता है। अमेरिका के यूएस कंप्‍यूटर इमरजेंसी रिस्‍पॉन्‍स टीम (यूएस-सीईआरटी) की ओर से टेक्निकल अलर्ट जारी किया गया है। इस अलर्ट में कहा गया है कि दुनियाभर को जानकारी देने वाले इंफ्रास्‍ट्रक्‍चा डिवाइस जैसे राउटर्स, स्विचेस, फायरवॉल्‍स, नेटवर्क पर आधारित डिटेक्‍शन सिस्‍टम को रूस के समर्थन से हमले का शिकार बनाया जा सकता है।

cyber-attack-russia

2015 से ही बना हुआ खतरा

अमेरिका के होमलैंड डिपार्टमेंट और एफबीआई की ओर से लगाए गए अनुमान के बाद यह टेक्निकल अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा इन कोशिशों में यूके की नेशनल साइबर सिक्‍योरिटी भी होमलैंड सिक्‍योरिटी और एफबीआई की ओर से की जा रही कोशिशों में शामिल थी। होमलैंड सिक्‍योरिटी की वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी गई है। साल 2015 से ही अमेरिकी सरकार को कई सूत्रों की ओर से इस बात की जानकारी मिल रही है कि प्राइवेट और पब्लिक सेक्‍टर को निशाना बनाने की कोशिशें की जा रही हैं। अमेरिकी सरकार की ओर से अनुमान लगाया गया है कि साइबर अटैकर्स को रूस की सरकार की ओर से लगातार समर्थन मिल रहा है ताकि वह पूरी दुनिया में एक कैंपेन के तहत साइबर सुरक्षा को तोड़ सकें। सीरिया पर हुए अमेरिक, फ्रांस और ब्रिटेन के हमलों के बाद से ही रूस के साथ कई देशों के संबंध अच्‍छे नहीं चल रहे हैं।

सीरिया पर हमलों के बाद पुतिन की चेतावनी

अमेरिका की अगुवाई में ब्रिटेन और फ्रांस की सेनाओं ने सीरिया पर मिसाइल से हमला किया था। सीरिया पर 100 से भी ज्‍यादा मिसाइलें दागीं गई थीं। हमलों के बाद रूस के राष्‍ट्रपति पुतिन ने अपनी प्रतिक्रिया दी थी। पुतिन ने सीरिया पर हुए हमलों को अमेरिका की आक्रामकता का नतीजा बताया था। ट्रंप ने उस केमिकल अटैक के लिए रूस और इसके राष्‍ट्रपति व्‍लादिमिर पुतिन को जिम्‍मेदार ठहराया था।रूस के राष्‍ट्रपति पुतिन ने सीरिया पर अमेरिका और उसके साथियों की ओर से हुए हमले की निंदा की थी। इसके साथ ही पुतिन ने चेतावनी भी दी है कि यह हमला सीरिया में आई प्रलय को कम करने के बजाय इसे और बढ़ाने का काम करेगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Cyber security representatives from US and UK have warned the governments of cyber attacked sponsored by Russia.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.